संभल : गैंगरेप के बाद महिला को जिंदा जलाया, पुलिस कर रही गैंगरेप से इनकार

यह घटना संभल जिले के रजपुरा थाना क्षेत्र के पाठकपुर गांव की है. पुलिस कर रही है मामले की जांच.

संभल : गैंगरेप के बाद महिला को जिंदा जलाया, पुलिस कर रही गैंगरेप से इनकार
महिला को गैंगरेप के बाद जिंदा जलाया. (प्रतीकात्‍मक फोटो)

संभल : उत्‍तर प्रदेश के संभल में दुस्‍साहसिक घटना सामने आई है. यहां एक महिला के साथ पहले तो दबंगों ने गैंगरेप किया. इसके बाद उनकी प‍हचान न उजागर हो इसके लिए उन्‍होंने पीड़ित महिला को ही जिंदा जला दिया. पीड़ित महिला ने गैंगरेप के बाद डायल 100 पुलिस टीम को फोन किया. लेकिन आरोप है कि डायल 100 की टीम ने फोन नहीं उठाया. इसके बाद पीड़िता ने अपने भाई को फोन करके गैंगरेप की जानकारी दी और मदद की गु‍हार लगाई. इसके बाद उसके घर पहुंचे आरोपियों ने उसे जिंदा जला दिया. वहीं पुलिस अभी भी गैंगरेप जैसी घटना से इनकार कर रही है.

यह घटना संभल जिले के रजपुरा थाना क्षेत्र के पाठकपुर गांव की है. दबंगों के कहर का शिकार हुई महिला का पति दिल्ली में मेहनत मजदूरी करता है. महिला गांव के कोने में बनी झोपड़ी में रहती थी. बताया जा रहा है कि गांव के पांच दबंग महिला के साथ कई दिन से छेड़खानी कर रहे थे. छेड़खानी का विरोध करने पर दबंगों ने महिला को पीटा भी था. आरोप है कि महिला के विरोध से नाराज आरोपी दबंगों ने शुक्रवार की आधी रात को महिला के घर में घुड़कर उसके साथ गैंगरेप किया. इसके बाद सभी गांव से फरार हो गए.

आरोपियों के जाने के बाद पीड़ित महिला ने मदद के लिए पुलिस की डायल 100 टीम को फोन किया. लेकिन आरोप है कि डायल 100 पुलिस ने फोन रिसीव नहीं किया. जब महिला को पुलिस से मदद नहीं मिली तो उसे अपने भाई को फोन कर घटना की जानकारी देकर मदद की गुहार लगाई. इस बीच दबंग खुद को पहचाने जाने के डर से दोबारा महिला की झोपड़ी पर पहुंच गए. वहां पहुंचकर सभी आरोपियों ने महिला को जिंदा जलाकर मार डाला.

महिला को जिंदा जलाने की खबर से गांव में सनसनी फैल गई. सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई. गांव में तनाव को देखते हुए पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है. एसपी आर एम भारद्वाज ने भी गांव में पहुंचकर घटना की जानकारी ली. लेकिन एसपी संभल महिला के साथ गैंगरेप की घटना से इनकार कर रहे हैं. जबकि महिला के मोबाइल की ऑडियो रिकार्डिंग से महिला के साथ गैंगरेप की पुष्टि होने की बात सामने आ रही है.

 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close