उप राष्ट्रपति चुनाव : भाजपा के वरिष्ठ नेता वेंकैया नायडू चुने गए NDA के उम्मीदवार

भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक सोमवार शाम होगी. बैठक में उपराष्ट्रपति पद के लिये एनडीए के उम्मीदवार के नाम को अंतिम रूप दिए जाने की उम्मीद है. मीडिया की खबरों के मुताबिक उपराष्ट्रपति पद के लिए एनडीए का उम्मीदवार दक्षिण भारत से हो सकता है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्रीय मंत्री एम.वेंकैया नायडू का नाम सबसे आगे चल रहा है. नायडू के अलावा तामिलनाडु के राज्यपाल सी विद्यासागर राव का नाम भी चर्चा में है. 

ज़ी न्यूज़ डेस्क | अंतिम अपडेट: Jul 18, 2017, 12:56 AM IST
उप राष्ट्रपति चुनाव : भाजपा के वरिष्ठ नेता वेंकैया नायडू चुने गए NDA के उम्मीदवार
उपराष्ट्रपति चुनाव में एनडीए उम्मीदवार के लिए केंद्रीय मंत्री एम.वेंकैया नायडू के नाम पर लगी मुहर. फोटो-भाजपा ट्विटर अकाउंट

नई दिल्ली : बीजेपी के सीनियर नेता और केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू एनडीए के उप राष्ट्रपति के उम्मीदवार होंगे. इससे पहले बीजेपी की संसदीय बोर्ड की बैठक में उनके नाम पर मुहर लगा दी गई. बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी भी शामिल हुए. बता दें कि  कांग्रेस समेत 18 विपक्षी दलों के गठबंधन ने उप राष्ट्रपति पद के लिये गोपालकृष्ण गांधी को अपना उम्मीदवार घोषित किया है, उप राष्ट्रपति पद के लिये मतदान 5 अगस्त को होगा. 

एनडीए के सभी साथियों का मिला समर्थन'

इस फैसले की जानकारी देते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि उनके नाम का एनडीए के सभी साथियों ने समर्थन किया है. बीजेपी संसदीय बोर्ड ने भी एक मत से उनके नाम पर मुहर लगाई है. शाह ने बताया कि वेंकैया नायडू मंगलवार सुबह 11 बजे अपना नामांकन दाखिल करेंगे. 

'1970 से सार्वजनिक जीवन में हैं वेंकैया नायडू' 

नायडू के बारे में परिचय देते हुए शाह ने कहा, 'वेंकैया नायडू 1970 से सार्वजनिक जीवन में रहे हैं. जेपी आंदोलन के दौरान वह दक्षिण भारत में एक महत्वपूर्ण नेता के तौर पर उभरे. वह भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे. दो बार बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे और चार बार राज्यसभा के सदस्य रहे. वेंकैया जी अटल सरकार में भी मंत्री रह चुके हैं.'

बीजेपी की नजर दक्षिण पर?

इस फैसले को दक्षिण में बीजेपी की पैठ बनाने की कोशिश के तौर पर भी देखा जा रहा है. पूरे देश में अपनी जड़ें मजबूत करने की कोशिश में लगी बीजेपी की नजर दक्षिण भारत पर है. उप राष्ट्रपति का चुनाव पार्टी के लिए एक मौका है . इससे पहले राष्ट्रपति पद के लिए बीजेपी ने उत्तर भारत से रामनाथ कोविंद के नाम को आगे किया था. 

बीजेपी को जीत का भरोसा

इस पद के लिये नामांकन पत्र भरने की अंतिम तिथि 18 जुलाई है. उप राष्ट्रपति पद के लिये निर्वाचक कालेज में 790 सदस्य हैं जिसमें लोकसभा और राज्यसभा के सदस्य शामिल हैं. सत्तारूढ़ गठबंधन को निर्वाचक कालेज में जबर्दस्त बहुमत हासिल है. भाजपा सूत्रों ने विश्वास व्यक्त किया है कि 790 सदस्यों में से उसके उम्मीदवार को 500 से अधिक वोट हासिल होंगे.