AAP की रैली में बीजेपी के बागी, केजरीवाल ने पूछा- मोदी जी ने ज्यादा काम किया या हमने

आम आदमी पार्टी की नोएडा रैली के दौरान बीजेपी के बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा और बीजेपी छोड़ चुके पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ मंच साझा किया.

AAP की रैली में बीजेपी के बागी, केजरीवाल ने पूछा- मोदी जी ने ज्यादा काम किया या हमने
नोएडा में जन अधिकारी रैली का दृश्य

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी की नोएडा रैली के दौरान बीजेपी के बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा और बीजेपी छोड़ चुके पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ मंच साझा किया. इस दौरान केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर काम नहीं करने का आरोप लगाया और कहा कि केंद्र सरकार दिल्ली सरकार को भी काम नहीं करने दे रही है.

उन्होंने कहा, 'दिल्ली सरकार ने 1000 क्लीनिक बनाए हैं, तो क्या प्रधानमंत्री जी पूरे देश में ऐसा कर सकते थे. लेकिन उन्होंने खुद तो ऐसा नहीं किया, साथ ही हमे भी ऐसा करने से रोकने की पूरी कोशिश की. चार साल के बाद मैं देश की जनता से पूछना चाहता हूं कि मोदी जी ने ज्यादा काम किया या आम आदमी पार्टी ने.'

झूठ बोलने का आरोप! 
जन अधिकारी रैली नाम से आयोजित इस आयोजन में यशवंत सिन्हा ने कहा, 'देश की राजनीति बदल रही है और सबसे बड़ा बदलाव कुछ वर्तमान नेताओं के झूठ बोलने से आया है, खासकर देश के उच्च पदासीन नेताओं के द्वारा. यहां पर मौजूद विशाल जनता को देखकर एक संतोष तो है कि जनता अब उस झूठ में नहीं आने वाली है.'

sinha
शत्रुध्न सिन्हा ने नोटबंदी और जीएसटी को असफल करार दिया (फोटो- आम आदमी पार्टी)

उन्होंने कहा, 'हमारे देश में यह परंपरा नहीं है कि जो दोषी हो उसे चौराहे पर खड़ा करके मारा जाए. हमारे देश में वोट के माध्यम से उन लोगों को दंडित किया जाता है, जिन्होंने जनता से झूठ बोला. आज नोटबंदी पूरी तरह से फेल हो गई है. नोटबंदी के चलते सारे उद्योग चौपट हो गए और आज तक चौपट हैं. आज देश के सर्वोच्च पद पर बैठे आदमी के अंदर अहम बैठ गया है कि मैं ही सब कुछ कर सकता हूं मेरे अलावा कोई कुछ नहीं कर सकता.'

नोटबंदी पर सवाल 
शत्रुघ्न सिन्हा ने भी नोटबंदी और जीएसटी को असफल करार दिया. उन्होंने कहा, 'मैं न अरविंद केजरीवाल जैसा काबिल हूं, न यशवंत सिन्हा जैसा स्टेट्समैन हूं और न ही मेरा 56 इंच का सीना है.' उन्होंने आगे कहा, 'नोटबंदी से नहीं उबरे तो आपने जीएसटी लगा दिया. जीएसटी हमें नहीं समझ आ रहा तो आम जनता को क्या आएगा. देखा जाए तो अच्छे दिन का ठेका फेल हो गया है. मैं भारतीय जनता पार्टी से पहले भारत की जनता का सेवक हूं. आम आदमी पार्टी इससे पहले दिल्ली में रैली का आयोजन कर चुकी है.