कर्नाटक: कई नव निर्वाचित MLAs के खिलाफ दर्ज हैं गंभीर मामले, बीजेपी के सबसे ज्यादा

बीजेपी के 42 विधायकों के खिलाफ गंभीर आपराधिक केस दर्ज हैं. इसके बाद कांग्रेस के 23 विधायक शामिल हैं.

कर्नाटक: कई नव निर्वाचित MLAs के खिलाफ दर्ज हैं गंभीर मामले, बीजेपी के सबसे ज्यादा
एडीआर और कर्नाटक इलेक्शन वॉच ने बताया है कि चार विधायकों ने स्वीकार किया कि उनके खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज है.
Play

बेंगलूरु: कर्नाटक में हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में नवनिर्वाचित कई विधायकों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. इसमें सबसे अधिक विधायक बीजेपी के हैं. बीजेपी के 42 विधायकों के खिलाफ गंभीर आपराधिक केस दर्ज हैं. इसके बाद कांग्रेस के 23 विधायक शामिल हैं. साथ ही राज्य में हुए पिछले विधानसभा चुनाव के मुकाबले इस बार उनकी संपत्ति में भी बढ़ोतरी दर्ज की गई है. एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर) और कर्नाटक इलेक्शन वॉच द्वारा जारी आंकड़े के मुताबिक 221 विधायकों पर किए गए विश्लेषण में 77 के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं. इनमें से 54 के खिलाफ हत्या, धोखाधड़ी, फर्जी और अपहरण के प्रयास से जुड़े गंभीर आपराधिक मामले दर्ज किए गए हैं. 

एडीआर और कर्नाटक इलेक्शन वॉच ने बताया है कि चार विधायकों ने स्वीकार किया कि उनके खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज है. रिपोर्ट के मुताबिक बीजेपी के जहां 42 विधायकों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज है, वहीं कांग्रेस के 23 विधायकों और जेडीएस के 11 विधायकों के खिलाफ मामले दर्ज है. बीजेपी इस मामले में भी सबसे आगे है कि उसके 29 विधायकों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मुकदमें चल रहे हैं. कांग्रेस के 12 और जेडीएस के 8 विधायक गंभीर आपराधिक मुकदमों का सामना कर रहे हैं. 

215 विधायक करोड़पति
धन दौलत में इजाफे के मामले में भी 221 नवनिर्वाचित विधायकों में से 215 विधायक करोड़पति हैं. पिछले विधानसभा चुनाव में इनकी संख्या 203 थी. सबसे ज्यादा धनी विधायक बीजेपी में हैं जिसके 101 विधायकों ने घोषित किया है कि वे करोड़पति हैं. कांग्रेस में ऐसे करोड़पति विधायकों की संख्या 77 और जेडीएस में 35 है. 

कई विधायकों की संपत्ति में कई गुना बढ़ी 
कई विधायकों की संपत्ति में बेहताशा बढ़ोतरी हुई है. चित्रदुर्ग से बीजेपी विधायक जीएच थिप्पा रेड्डी की संपत्ति 2013 में 48 करोड़ थी. उनकी संपत्ति में 418 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. इसी तरह से कांग्रेस विधायक ज़मीर खान की संपत्ति 2013 में 9 करोड़ थी, 2018 में उनकी संपत्ति बढ़कर 40 करोड़ हो गई है. 2013 में खान ने जेडीएस के टिकट पर चुनाव लड़ा था. पिछले पांच वर्षों में कांग्रेस विधायक डीके शिवकुमार की संपत्ति में 251 फीसदी की वृद्धि हुई है. 2013 में शिवकुमार की कुल संपत्ति 251 करोड़ थी जो अब बढ़कर 840 करोड़ हो गई है.