शेयर बाजार : संसद व आंकड़ों पर निवेशकों की नजर

Last Updated: Sunday, December 9, 2012 - 09:26

मुम्बई : शेयर बाजार के निवेशकों की नजर अगले सप्ताह संसद के शीतकालीन अधिवेशन और सरकार द्वारा जारी किए जाने वाले महत्वपूर्ण आंकड़ों पर टिकी रहेगी। संसद का शीतकालीन अधिवेशन 22 नवम्बर से जारी है। कई महत्वपूर्ण आर्थिक विधेयक संसद में पेश किए जाने वाले हैं। इनमें पेंशन विधेयक, बीमा विधेयक और बैंकिंग कानून (संशोधन) विधेयक-2011 प्रमुख हैं।
बीमा विधेयक में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) की सीमा को 26 फीसदी से बढ़ाकर 49 फीसदी किए जाने का प्रावधान है। पेंशन विधेयक में घरेलू फंड मैनेजरों में 49 फीसदी तक एफडीआई सीमा को अनुमति दिए जाने का प्रावधान है। बैंक कानून (संशोधन) विधेयक 2011 में निजी बैंकों में अधिकतम मतदान सीमा 10 फीसदी को समाप्त करने और सरकारी बैंकों में एक फीसदी से बढ़ाकर 10 फीसदी किए जाने का प्रावधान है। इसके अलावा इसमें भारतीय रिजर्व बैंक को अधिक अधिकार भी दिया गया है।
भारतीय रिजर्व बैंक ने सरकार से कहा है कि पहले वह बैंकिंग कानून (संशोधन) विधेयक 2011 को सदन में पारित कराए, तभी वह नए बैंक लाइसेंस देने के मुद्दे पर विचार करेगा। केंद्रीय सांख्यिकी संगठन अगले सप्ताह कई महत्वपूर्ण आंकड़े जारी करेगा। बुधवार 12 दिसम्बर को अक्टूबर महीने का औद्योगिक उत्पादन आंकड़ा जारी किया जाएगा। नवंबर महीने के लिए थोक कीमतों पर आधारित महंगाई दर का आंकड़ा 14 दिसम्बर को जारी किया जाएगा।
देश की कम्पनियां 15 दिसम्बर से तीसरी तिमाही का अग्रिम कर जमा करना शुरू कर देंगी। निवेशक इससे कम्पनियों के प्रदर्शन के महत्वपूर्ण संकेत ले सकते हैं। अग्रिम कर चार किश्तों में 15 जून, 15 सितम्बर, 15 दिसम्बर और 15 मार्च से जमा की जाती है।
अगले सप्ताह भारती इंफ्राटेल और पीसी ज्वेलर अपने प्राथमिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) लेकर आ रही है। भारतीय एयरटेल की सहायक कम्पनी भारती इंफ्राटेल का आईपीओ मंगलवार 11 दिसम्बर को खुलेगा। आईपीओ का मूल्य दायरा 210 रुपये से 240 रुपये प्रति शेयर रखा गया है। आईपीओ शुक्रवार 14 दिसम्बर को बंद होगा। पीसी ज्वेलर का आईपीओ सोमवार 10 दिसम्बर को खुलेगा और बुधवार 12 दिसम्बर को बंद होगा। आईपीओ में शेयर का मूल्य दायरा 125 रुपये से 135 रुपये रखा गया है। (एजेंसी)





comments powered by Disqus