19,000 के नीचे आ गया सेंसेक्स

Last Updated: Wednesday, March 20, 2013 - 22:07

मुंबई : द्रमुक द्वारा संप्रग सरकार से समर्थन वापस लेने से आर्थिक सुधारों की गति मंद पड़ने की आशंका के बीच चौतरफा बिकवाली दबाव से बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 124 अंक टूटकर 19,000 के नीचे आ गया।
तीस शेयरों वाला सेंसेक्स आज 123.91 अंक की गिरावट के साथ 18,884.19 अंक पर बंद हुआ। इससे पहले सेंसेक्स ने यह स्तर एक मार्च को दर्ज किया था। आज की गिरावट के साथ चार सत्रों में सेंसेक्स 686.25 अंक टूट चुका है। इसी तरह, नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 51.55 अंक टूटकर 5,700 अंक से नीचे आ गया और 5,694.40 अंक पर बंद हुआ।
ब्रोकरों ने कहा कि श्रीलंकाई तमिल मुद्दे पर द्रमुक द्वारा कांग्रेस नीत संप्रग सरकार से समर्थन वापस लेने से बाजार की धारणा कमजोर हो गई है। निवेशकों को आशंका है कि इससे आर्थिक सुधारों की गति सुस्त पड़ सकती है।
कोटक सिक्युरिटीज के अध्यक्ष (प्राइवेट क्लाइंट ग्रुप रिसर्च) संजीव जारबडे ने कहा, ‘‘ निवेशक इस बात को लेकर आशंकित हैं कि राजनीतिक अनिश्चितता से सुधार पटरी से उतर सकता है जिससे आर्थिक सुधार की प्रक्रिया में विलंब हो सकता है।’’ द्रमुक के पांच मंत्रियों ने आज प्रधानमंत्री को अपना इस्तीफा सौंप दिया। इससे पेंशन और बीमा जैसे प्रमुख सुधार के विधेयक अधर में लटक सकते हैं।
अन्य एशियाई बाजारों में मिला-जुला रुख रहा। सिंगापुर, दक्षिण कोरिया और ताइवान के शेयर सूचकांक गिरावट के साथ बंद हुए, जबकि चीन और हांगकांग के शेयर सूचकांक बढ़त के साथ बंद हुए। जापान के शेयर बाजार में आज अवकाश रहा। हालांकि, यूरोपीय शेयर बाजार तेजी के साथ कारोबार कर रहे थे। इधर, सेंसेक्स में शामिल 30 में से 19 कंपनियों के शेयर गिरावट के साथ बंद हुए जिनमें भारती एयरटेल 4.18 प्रतिशत, एसबीआई 3.87 प्रतिशत, एनटीपीसी 3.43 प्रतिशत, आईसीआईसीआई बैंक 2.85 प्रतिशत, हिंडाल्को 2.80 प्रतिशत, ओएनजीसी 2.76 प्रतिशत, भेल 2.23 प्रतिशत, एलएंडटी 2.12 प्रतिशत, मारुति सुजुकी 1.77 प्रतिशत, टाटा स्टील 1.40 प्रतिशत, गेल इंडिया 1.16 प्रतिशत और एचडीएफसी बैंक 0.78 प्रतिशत टूट गया। हालांकि, एचयूएल 3.37 प्रतिशत, टाटा मोटर्स 1.51 प्रतिशत, सिप्ला 1.47 प्रतिशत, टीसीएस 0.78 प्रतिशत और आईटीसी 0.64 प्रतिशत मजबूत हुआ। (एजेंसी)



First Published: Wednesday, March 20, 2013 - 16:46


comments powered by Disqus