'उ. कोरियाई उपग्रह प्रक्षेपण उकसावा भरा'

Last Updated: Tuesday, April 10, 2012 - 10:17

वाशिंगटन : अमेरिका ने सोमवार को कहा है कि इस महीने उपग्रह प्रक्षेपण की उत्तर कोरिया की योजना उकसावे वाली कार्रवाई है। विदेश विभाग की प्रवक्ता विक्टोरिया नूलैंड ने कहा कि उत्तर कोरिया का प्रक्षेपास्त्र प्रक्षेपण अत्यधिक उकसावे वाली कार्रवाई है। इससे क्षेत्रीय सुरक्षा के लिए खतरा उत्पन्न होगा और यह हाल में उसके द्वारा स्वीकार की गई उन शर्तों का उल्लंघन होगा, जिसमें किसी भी तरह के लम्बी दूरी के प्रक्षेपास्त्र प्रक्षेपण से दूर रहने की बात शामिल थी।

 

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, नूलैंड ने कहा कि वाशिंगटन इस प्रक्षेपण को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव- 1718 और 1874 का उल्लंघन मानता है, जो प्योंगयांग को बैलिस्टिक मिसाइल प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल के जरिए किसी भी तरह के प्रक्षेपण से रोकता है।

 

ज्ञात हो कि उत्तर कोरिया ने अपने संस्थापक किम इल सुंग की 100वीं जयंती के उपलक्ष्य में 12 और 16 अप्रैल के बीच क्वोंगम्योंगसोंग-3 उपग्रह के प्रक्षेपण की अपनी योजना की पिछले महीने घोषणा की थी।

(एजेंसी)



First Published: Tuesday, April 10, 2012 - 15:47


comments powered by Disqus