अनाडेल मैदान पर सेना ने दिए जांच के आदेश

Last Updated: Monday, April 16, 2012 - 16:15

दिल्ली : थलसेना ने हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री के कड़े रुख के बाद अनाडेल मैदान के मसले पर राज्य सरकार के खिलाफ अपने पश्चिमी कमान मुख्यालय से जारी ‘‘अपमानजनक’’ प्रेस विज्ञप्ति मामले में जांच के आदेश दिए हैं।

 

इस संबंध में पूछे जाने पर थलसेना प्रमुख जनरल वी.के सिंह ने सोमवार को कहा कि वो अनाडेल मैदान विवाद पर राज्य के मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल से बातचीत करेंगे।

 

उन्होंने कहा,  मैं मुख्यमंत्री से बात करुंगा। मुख्यमंत्री के साथ हमारा रिश्ता बहुत अच्छा है। जनरल सिंह ने कहा कि उन्होंने इस बयान पर पश्चिमी कमान मुख्यालय से रिपोर्ट मांगी है। उन्होंने कहा, पश्चिमी कमान ने हमें बताया। वे इसे सुधारेंगे और हमें इससे कोई समस्या नहीं है।

 

थलसेना की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया, थलसेना ने अनाडेल मैदान मसले पर पश्चिमी कमान मुख्यालय से जारी उस प्रेस विज्ञप्ति, की जांच के आदेश दिए हैं, जो राज्य सरकार और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री के प्रति अपमानजनक थी।

 

गौरतलब है कि शिमला रिज से लगभग साढ़े चार किलोमीटर की दूरी पर मौजूद घने जंगलों से घिरा 121 बीघा का यह मैदान दूसरे विश्वयुद्ध के बाद से ही सेना के नियंत्रण में है।

 

अब इस मैदान को लेकर राज्य सरकार और सेना के बीच तनातनी शुरू हो चुकी है। हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष और मुख्यमंत्री के बेटे सांसद अनुराग ठाकुर ने इस मैदान को राज्य के नियंत्रण में लेने का अभियान शुरू किया है। सेना की ओर से कल जारी एक बयान के बाद इस मसले ने और तूल पकड़ लिया, जिसमें कहा गया कि ‘‘खेल और नौटंकी’’ के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता।

 

बयान के बाद मुख्यमंत्री धूमल ने थलसेना पर राज्य सरकार और उनकी छवि को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया और बिना शर्त माफी नहीं मांगे जाने की सूरत में थलसेना के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर कराने की धमकी दी थी।  (एजेंसी)



First Published: Monday, April 16, 2012 - 21:48


comments powered by Disqus