आर्मी चीफ के नेपाल दौरे पर चली कैंची !

Last Updated: Sunday, April 1, 2012 - 06:57

 

ज़ी न्यूज ब्यूरो

नई दिल्ली: ऐसा लगता है कि सेनाध्यक्ष वी के सिंह और सरकार के बीच सब कुछ ठीक नहीं है। इसका पता इस बात से भी चलता है कि रक्षा मंत्रालय ने आर्मी चीफ की अगले हफ्ते से शुरू होने वाली नेपाल यात्रा पर नकेल कसी है।

 

सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि रक्षा मंत्रालय ने आर्मी चीफ की नेपाल यात्रा को छोटा कर दिया है। कहा जा रहा है कि सेनाध्यक्ष ने नेपाल सेना के सेमिनार में भाग लेने के लिए 4 दिन की इजाजत मांगी थी लेकिन रक्षा मंत्रालय ने उनकी यात्रा को घटाकर दो दिनों का कर दिया है। इसके साथ ही रक्षा मंत्रालय ने आर्मी चीफ को प्रतिनिधिमण्डल छोटा करने का भी निर्देश दिया है।

 

इस बीच सरकार के नुमाइंदे सेना और सरकार के संबंधों में खटास की बात से इंकार कर रहे है। इसी के तहत शनिवार को सरकार और सेना के बीच संबंधों के बचाव में कांग्रेस के संकटमोचक कहे जाने वाले मंत्री प्रणब मुखर्जी आ गए।  वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने शनिवार को कहा कि सरकार व सेनाध्यक्ष जनरल वीके सिंह के बीच कोई मतभेद नहीं है। उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्री ने इस मामले में अपना पक्ष रख दिया है।

 

कुछ ही दिनों पहले रक्षा मंत्री एके एंटनी ने यह साफ करने की कोशिश की थी सरकार और सेना के तीनों अंगों में कोई मतभेद नहीं है और सबकुछ ठीकठाक है।



First Published: Monday, April 2, 2012 - 09:28


comments powered by Disqus