खुद को अलग साबित करे भाजपा: संघ

बसपा के दागी मंत्रियों को टिकट देने के कारण पहले ही आलोचनाओं में घिरी भाजपा को उसके शीर्ष संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने चेतावनी देते हुए कहा है कि आगामी विधानसभा चुनावों में उसे साबित करना होगा कि वह सपा, बसपा या कांग्रेस से अलग है।

Updated: Jan 5, 2012, 11:39 AM IST

नई दिल्ली : बसपा के दागी मंत्रियों को टिकट देने के कारण पहले ही आलोचनाओं में घिरी भाजपा को उसके शीर्ष संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने चेतावनी देते हुए कहा है कि आगामी विधानसभा चुनावों में उसे साबित करना होगा कि वह सपा, बसपा या कांग्रेस से अलग है।

 

संघ के मुखपत्र पांचजन्य में पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों पर विशेष लेख में कहा गया कि इस चुनाव में भाजपा को भी जनता के सामने साबित करना होगा कि वह सपा, बसपा और कांग्रेस से इतर सुशासन देने वाला विकल्प है।

 

मुखपत्र में कहा गया कि उत्तर प्रदेश के पिछले विधानसभा चुनावों में मायावती ने सपा के तत्कालीन मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के कुशासन और भ्रष्टाचार को मुद्दा बनाकर चुनाव लड़ा था और नारा दिया था, ‘चढ़ गुंडों की छाती पर, मुहर लगेगी हाथी पर’ । लेकिन मायावती ने उस समय कई दागियों को टिकट दिए। संघ ने मायावती मंत्रिमंडल के दागी मंत्रियों को गिनाते हुए कहा कि दो मंत्री एनआरएचएम घोटाले, दो सीएमओ और एक डिप्टी सीएमओ की हत्या के आरोप में हटाए गए। यही नहीं राज्य मंत्री दर्जा प्राप्त कई लोगों को अवैध यौन संबंधों में लिप्तता के कारण हटाना पडा।

 

गौरतलब है कि हाल ही में पार्टी में शामिल किए गए बाबू सिंह कुशवाहा को मायावती कैबिनेट से निकाल दिया गया था और भाजपा में शामिल होने के दिन ही एनआरएचएम घोटाले में कथित रूप से शामिल होने के कारण उनके यहां सीबीआई ने छापे मारे।

(एजेंसी)