जगन,एम्मार मामले की जांच शुरु

Last Updated: Thursday, August 18, 2011 - 07:10

[caption id="attachment_3542" align="alignnone" width="300" caption="जगमोहन रेड्डी"][/caption]

सीबीआई ने गुरुवार को वाईएसआर कांग्रेस के अध्यक्ष वाई.एस. जगनमोहन रेड्डी की कथित अवैध सम्पत्ति और एम्मार टाउनशिप परियोजना में कथित अनियमितताओं के मामले में कई स्थानों पर तलाशी शुरू कर दी.

सूत्रों के मुताबिक सीबीआई की करीब 20 टीमों ने हैदराबाद, बेंगलुरू और मुम्बई में विभिन्न स्थानों पर एक साथ तलाशी शुरू की.

एक विशेष अदालत से तलाशी वारंट हासिल करने के बाद सीबीआई अधिकारियों ने जगनमोहन रेड्डी, उनकी बहन शर्मिला, आईएएस अधिकारी बी.पी. आचार्य, व्यवसायी निम्मागड्डा प्रसाद और कई अन्य लोगों के आवासों व कम्पनियों में तलाशी अभियान शुरू कर दिया है.

आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट के दिशा-निर्देश में सीबीआई द्वारा दोनों ही मामलों में प्राथमिकी दर्ज किए जाने के एक ही दिन बाद हैदराबाद में 22 स्थानों पर तलाशी की जा रही है.

सूत्रों के मुताबिक सीबीआई को आरोपियों के खिलाफ मामले दर्ज करने के लिए सबूतों की तलाश है.

सीबीआई के संयुक्त निदेशक वी.वी. लक्ष्मीनारायण के नेतृत्व में एक 11 सदस्यीय टीम जगन के बंजारा हिल्स के लोटस पोंड स्थित आवास पर तलाशी के लिए पहुंची है.

एपीआईआईसी ने एम्मार को जमीन आवंटित की थी. बाद में एम्मार ने कथिततौर पर एपीआईआईसी की अनुमति के बिना ही उसके शेयर संयुक्त उद्यम में लगा दिए थे. इससे सरकारी खजाने को 5,000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था.

सीबीआई अधिकारियों ने जगन की भारती सीमेंट कम्पनी, उनके द्वारा संचालित तेलुगू दैनिक व समाचार चैनल साक्षी में भी तलाशी शुरू कर दी है. जगन के बेंगलुरू स्थित आवास व मुम्बई स्थित कार्यालयों में भी तलाशी शुरू कर दी गई है.

इस साल मई में कडप्पा लोकसभा सीट पर उपचुनाव हुआ था. उस वक्त जगन ने 365 करोड़ रुपये की सम्पत्ति घोषित की थी और वह देश के सबसे अमीर सांसद बन गए थे. वहीं साल 2009 के चुनावों के दौरान उनके पास 77 करोड़ रुपये की सम्पत्ति थी.

 



First Published: Thursday, August 18, 2011 - 12:40
comments powered by Disqus