जदयू साथ नहीं छोड़ेगा: बीजेपी

राजग की ओर से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में किसी ‘सेकुलर’ व्यक्ति को उम्मीदवार घोषित करने का जदयू द्वारा भाजपा पर डाले जा रहे दबाव की खबरों पर मुख्य विपक्षी दल ने शुक्रवार को दावा किया कि उसका यह महत्वपूर्ण सहयोगी दल उसका साथ नहीं छोड़ेगा।

Updated: Apr 11, 2013, 09:30 PM IST

नई दिल्ली : राजग की ओर से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में किसी ‘सेकुलर’ व्यक्ति को उम्मीदवार घोषित करने का जदयू द्वारा भाजपा पर डाले जा रहे दबाव की खबरों पर मुख्य विपक्षी दल ने शुक्रवार को दावा किया कि उसका यह महत्वपूर्ण सहयोगी दल उसका साथ नहीं छोड़ेगा।
ऐसी खबरें हैं कि गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने की संभावनाओं का विरोध कर रहे जदयू की ओर से भाजपा पर दबाव बनाया जा रहा है कि जल्द ही राजग की ओर से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार की घोषणा कर दी जाए जिससे मोदी को लेकर चल रही अटकलों पर विराम लग सके।
जदयू के इस दबाव के बारे में पूछे जाने का सीधा जवाब देने से बचते हुए भाजपा प्रवक्ता निर्मला सीतारमण ने यहां कहा कि जदयू भाजपा का बहुत ही महत्वपूर्ण और दूरगामी सहयोगी है। उन्होंने कहा कि जदयू भ्रष्टाचार के मुद्दे पर कांग्रेस के खिलाफ पूर्व में हुए एक बड़े आंदोलन से उपजा दल है। यह कांग्रेस-विरोध की राजनीति की पृष्ठभूमि वाला दल है। उन्होंने कहा, भाजपा का विश्वास है कि जदयू राजग में बना रहेगा। उधर, जदयू अध्यक्ष शरद यादव ने मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने की संभावना से जुड़े सवाल पर आज यहां कहा कि हमने पहले भी कभी धर्मनिरपेक्षता पर समझौता नहीं किया था और अब भी हम नहीं कर रहे हैं।
इस प्रश्न पर कि क्‍या जदयू की शनिवार से शुरू हो रही दो दिवसीय उच्च स्तरीय बैठक में भाजपा की ओर से मोदी को बढ़ाचढ़ा कर पेश करने के मुद्दे पर विचार विमर्श होगा, यादव ने कहा कि किसी मुद्दे पर रोक नहीं है। हर चीज पर विचार विमर्श हो सकता है। (एजेंसी)