दिग्विजय ने श्रीश्री की यात्रा पर उठाए सवाल

Last Updated: Tuesday, November 1, 2011 - 09:23

जी न्‍यूज ब्‍यूरो

नई दिल्‍ली : कांग्रेस के महासचिव दिग्विजय सिंह ने मंगलवार को आध्‍यात्मिक गुरु एवं ऑर्ट ऑफ लिविंग के संस्‍थापक श्रीश्री रविशंकर की भ्रष्‍टाचार के खिलाफ उत्‍तर प्रदेश में आगामी दिनों में प्रस्‍तावित यात्रा कार्यक्रमों पर सवाल खड़े किए हैं। श्रीश्री पर अपना हमला तेज करते हुए दिग्विजय सिंह ने ट्वीटर पर लिखा, ' कल्‍याण एवं परमार्थ कार्यों की शुरुआत घर से होती है, ऐसे में क्‍या श्रीश्री रविशंकर को अपने अभियान की शुरुआत कर्नाटक से नहीं करना चाहिए? लेकिन प्‍यार तो अंधा होता है'।

 

कांग्रेस महासचिव ने यह भी कहा कि उन्‍हें मुख्‍यमंत्री मायावती की प्रतिक्रिया का इंतजार रहेगा, जब श्रीश्री रविशंकर उत्‍तर प्रदेश में अपनी यात्रा के दौरान भ्रष्‍टाचार के खिलाफ बोलेंगे।  गौरतलब है कि दिग्विजय सिंह ने बीते दिनों कहा था कि रामदेव और अन्‍ना हजारे भाजपा-आरएसएस के प्‍लान 'ए' एवं प्‍लान 'बी' हैं तथा श्रीश्री रविशंकर प्‍लान 'सी' हैं।

 

उन्‍होंने लिखा कि अब जबकि श्रीश्री उत्‍तर प्रदेश में भ्रष्‍टाचार के खिलाफ जाने वाले हैं, मेरी बात स्‍वत: सत्‍य साबित हो जाती है। वैसे भी अन्‍ना और गडकरी तो मुझे पागलखाने में देखना चाहते हैं, वे पहले खुद को देखें। इससे पहले कल श्रीश्री ने कहा था कि उत्तर प्रदेश की उनकी यात्रा एक आम सत्संग है और कोई वैकल्पिक उद्देश्य या राजनीतिक एजेंडा नहीं है।

 

टीम अन्‍ना पर कांग्रेस महासचिव ने ट्वीट किया कि अन्‍ना की सुपर टीम के लिए 'न खाता न बही, जो केजरीवाल कहे वही सही'।टीम अन्ना की ओर से पिछले छह महीने में दान में मिले 42 लाख रुपये लौटाने के फैसले पर भी दिग्विजय सिंह ने मंगलवार को हमला बोला। उन्‍होंने माइक्रो ब्लागिंग वेबसाइट ट्वीटर पर लिखा, ‘सुपर टीम अन्ना ने एक असंभव काम किया है ।

 

टीम अन्ना ने अज्ञात दानदाताओं से मिले करीब 42 लाख रुपये वापस कर दिए। केवल ‘सुपर हीरो’ ही अज्ञात लोगों से पैसा इकट्ठा कर सकते हैं और उन्हें लौटा सकते हैं ।’ दिग्विजय सिंह की यह टिप्पणी ऐसे समय पर आई है जब टीम अन्ना ने पूरा ब्यूरा नहीं देने वाले दानदाताओं के 42.55 लाख रुपये उनके खाते में वापस करने के फैसले के बाद आया है।

 

(एजेंसी)



First Published: Tuesday, November 1, 2011 - 22:12


comments powered by Disqus