प्रधानमंत्री ने मांगी रेलवे सुरक्षा पर रिपोर्ट

बढ़ती रेल दुर्घटनाओं को देखते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने रेलवे के लिए विस्तृत सुरक्षा योजना मांगी है। रेल मंत्रालय के एक सूत्र ने बताया, ‘‘प्रधानमंत्री कार्यालय को जल्द से जल्द जमा करने के लिए एक विस्तृत रेलवे सुरक्षा योजना बनाई जा रही है ।’’

अंतिम अपडेट: Jul 25, 2011, 12:36 PM IST

नयी दिल्ली : बढ़ती रेल दुर्घटनाओं को देखते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने रेलवे के लिए विस्तृत सुरक्षा योजना मांगी है। रेल मंत्रालय के एक सूत्र ने बताया, ‘‘प्रधानमंत्री कार्यालय को जल्द से जल्द जमा करने के लिए एक विस्तृत रेलवे सुरक्षा योजना बनाई जा रही है ।’’ प्रधानमंत्री ने 10 जुलाई को हावड़ा-कालका मेल के पटरी से उतरने की घटना के बाद यह रिपोर्ट मांगी थी । इस दुर्घटना में 69 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 240 अन्य घायल हो गए थे ।
इसके तीन दिन पहले सात जुलाई को मथुरा-छपरा एक्सप्रेस एक मानवरहित रेलवे क्रॉसिंग पर एक बस से टकरा गई थी जिसमें 32 लोगों की मौत हो गई थी। सूत्र के मुताबिक, पीएमओ को जो सुरक्षा योजना जमा की जानी है, उसमें कहा गया है कि रेलवे को अभी जितने सुरक्षा कार्यों की जरूरत है, उनका अनुमानित खर्च लगभग 70 हजार करोड़ रुपये है । इस सुरक्षा योजना में सुरक्षा से जुड़े कई उपाय बताए गए हैं, जिसमें टक्कररोधी उपकरण :एंटी कोलिजन डिवाइस: लगाना, ट्रेन प्रोटेक्शन वार्निंग सिस्टम लगाना, मानवरहित पटरियों को समाप्त करना, पटरियों को सुधारने के लिए यंत्रीकृत तरीका विकसित करना, सिग्नल और दूरसंचार सुविधाओं का आधुनिकीकरण समेत कई अन्य उपाय शामिल हैं ।

Tags: