बेहतर समन्वय पर RSS और BJP की बैठक

Last Updated: Thursday, August 1, 2013 - 21:11

नई दिल्ली : अगले लोकसभा चुनाव में राष्ट्रीय स्वसंसेवक संघ और पार्टी के बीच बेहतर समन्वय सुनिश्चित करने के उद्देश्य से भाजपा और संघ के शीर्ष नेताओं के बीच बंद कमरे में लम्बी बैठक हुई।
बैठक के दौरान देश के समक्ष मौजूदा खराब आर्थिक स्थिति और आंतरिक सुरक्षा से जुड़ी चिंताओं समेत अन्य विषयों पर चर्चा हुई। बैठक के बाद भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने कहा कि अगले लोकसभा चुनाव के संदर्भ में पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार समेत अन्य राजनीतिक मुद्दों पर चर्चा नहीं हुई। गौरतलब है कि ऐसी अटकलें लगाई जा रही थी कि इस बैठक में नेता राजनीतिक रणनीति तय करने पर चर्चा करेंगे।
उन्होंने कहा, ‘बैठक के दौरान महत्वपूर्ण सामाजिक, आर्थिक और सुरक्षा जैसे राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा की गई। किसी भी राजनीति विषय पर चर्चा नहीं हुई।’ बैठक में हिस्सा लेने वालों में भाजपा के चुनाव अभियान समिति के प्रमुख नरेन्द्र मोदी, लोकसभा में विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज, राज्य सभा में विपक्ष के नेता अरूण जेटली, पार्टी के संगठन मंत्री राम लाल, सचिव वी सतीश समेत अन्य नेता शामिल थे।
आरएसएस की ओर से सहकार्यवाह भैय्याजी जोशी, संयुक्त महासचिव सुरेश सोनी के अलावा वरिष्ठ प्रचारक दत्तात्रेय होसबोले और कृष्ण गोपाल शामिल थे।
बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी शामिल नहीं हुए। सिंह ने कहा कि पूर्व व्यस्तताओं के कारण दोनों बैठक में शामिल नहीं हो सके। सूत्रों ने कहा कि बैठक में भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बीच बेहतर तालमेल सुनिश्चित करने पर चर्चा हुई ताकि संघ अगले लोकसभा चुनाव में पार्टी की जीत सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाये।
संघ का इस बात पर भी जोर है कि विहिप और बजरंग दल जैसे अन्य हिन्दू संगठन चुनाव प्रक्रिया में सक्रियता से हिस्सा ले ताकि भाजना की चुनावी संभावना बेहतर हो सके।
भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार समेत राजनीतिक स्थिति के बारे में पूछे जाने पर भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘ हम इस तरह की बैठक हर तीन-चार महीने में करते हैं। जब भी ऐसी बैठक होती है तब हम राजनीतिक चर्चा नहीं करते हैं।’ राजनाथ ने कहा कि देश की खराब होती आर्थिक स्थिति और आंतरिक एवं बाह्य सुरक्षा स्थितियों पर चर्चा हुई।
आर्थिक संकट और सुरक्षा चिंताओं का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, ‘ हम चाहते हैं कि इस मुद्दें पर पूरा राष्ट्र हमारा समर्थन करे।’ उन्होंने कहा, ‘ हमने इस बारे में चर्चा की कि हमारी भूमिका क्यों होनी चाहिए।’ (एजेंसी)



First Published: Thursday, August 1, 2013 - 21:11


comments powered by Disqus