भारत की आबादी बढ़कर हुई 1.21 अरब

Last Updated: Tuesday, April 30, 2013 - 19:42

नई दिल्ली : भारत की आबादी 1 . 21 अरब है जो पिछले दशक से 17 . 7 प्रतिशत अधिक है। केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिन्दे द्वारा मंगलवार को जारी अंतिम जनगणना रिपोर्ट के मुताबिक एक मार्च 2011 की स्थिति के मुताबिक भारत की आबादी एक अरब 21 करोड सात लाख 26 हजार 932 थी।
पिछले दशक से 2011 में पुरुषों की संख्या में 9 . 097 करोड और महिलाओं की संख्या में 9 . 099 करोड की बढोतरी हुई। महिलाओं की वृद्धि दर 18 . 3 प्रतिशत रही जो पुरुषों के 17 . 1 प्रतिशत से अधिक है।
भारत की आबादी 2001-11 के दौरान 17 . 7 प्रतिशत बढी जबकि पिछले दशक में यह बढोतरी 21 . 5 प्रतिशत थी। राज्यों की बात करें तो सबसे अधिक आबादी बिहार में बढी, जहां 25 . 4 प्रतिशत लोग एक दशक में बढ गये।
2011 की जनगणना के मुताबिक देश के गांवों में 83 . 35 करोड लोग रहते हैं जो कुल आबादी का दो तिहाई है। देश के शहरी इलाकों में 37 . 71 करोड लोग रहते हैं।
शहरी आबादी 1951 में 17 . 3 प्रतिशत थी जो 2011 में बढकर 31 . 2 प्रतिशत हो गयी। सबसे अधिक शहरी आबादी राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली (97 . 5 प्रतिशत) में है। उसके बाद गोवा ( 62 . 2 प्रतिशत), मिजोरम (52. 1 प्रतिशत), तमिलनाडु (48 . 4 प्रतिशत), केरल (47. 7 प्रतिशत) और महाराष्ट्र (45 . 2 प्रतिशत) का नंबर आता है। (एजेंसी)



First Published: Tuesday, April 30, 2013 - 19:42


comments powered by Disqus