राजग FDI पर रोक लगाएगा: शरद यादव

राष्ट्रीय जनातांत्रिक गठबंधन (राजग) के संयोजक शरद यादव ने कहा है कि गठबंधन के केन्द्र की सत्ता में आने पर मल्टीब्रांड खुदरा व्यापार में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) की अनुमति के मौजूदा सरकार के फैसले को रद्द कर इस क्षेत्र में व्यापार को उन्नत बनाने के लिए एक नई नीति बनायी जायेगी।

Updated: Dec 8, 2012, 08:52 PM IST

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जनातांत्रिक गठबंधन (राजग) के संयोजक शरद यादव ने कहा है कि गठबंधन के केन्द्र की सत्ता में आने पर मल्टीब्रांड खुदरा व्यापार में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) की अनुमति के मौजूदा सरकार के फैसले को रद्द कर इस क्षेत्र में व्यापार को उन्नत बनाने के लिए एक नई नीति बनायी जायेगी।
यादव ने आज यहां जारी वक्तव्य में कहा कि एफडीआई के मुद्दे पर भले ही सरकार ने संसद में बहुमत जुटा लिया हो लेकिन इस बारे में अंतिम फैसला देश की जनता करेगी। उन्होंने कहा कि सरकार के इस निर्णय से किसान, मजदूर, छोटे व्यापारी, छोटे उद्योग और रेहडी पटरी वाले सभी वर्ग बुरी तरह प्रभावित होंगे। बहुराष्ट्रीय कंपनियों और बडे कारपोरेट घरानों के दबाव में लिये गये इस फैसले से देश की अर्थव्यवस्था और खुदरा व्यापार पर प्रतिकूल असर पडेगा।
राजग संयोजक ने कहा कि गठबंधन के सत्ता में आने पर घरेलू संसाधनों को बेहतर तरीके से उपयोग में लाते हुए खुदरा बाजार को मजबूत बनाने के उपाय किये जायेंगे। इसके लिए सभी वर्गों को विश्वास में लेकर एक नयी नीति बनायी जायेगी। इस नीति में यह सुनिश्चित किया जायेगा कि किसान को उसकी फसल का सही दाम मिले और मजदूर को उसकी पूरी मजदूरी मिले। (एजेंसी)