‘जुंदाल ने सऊदी में फर्जी सिम कार्ड किए इस्तेामाल’

Last Updated: Thursday, July 26, 2012 - 22:54

मुंबई: लश्कर-ए-तोएबा षड्यंत्रकर्ता सैयद अंसारी उर्फ अबू जुंदाल ने खुलासा किया है कि सउदी अरब में छुपने के दौरान उसने चार ईमेल पतों और 10 अंतरराष्ट्रीय सिम कार्डों का इस्तेमाल किया तथा उसे वहां पर युवाओं को आतंकवादी संगठन में भर्ती करने का कार्य भी सौंपा गया था।
एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि जुंदाल ने खुलासा किया है कि वह काफी समय तक सउदी अरब में छुपने में कामयाब रहा क्योंकि उसने अलग अलग सिम कार्डों और फर्जी नामों पर ईमेल पतों का इस्तेमाल किया। अधिकारी ने कहा कि जुंदाल ने बताया कि उसने सुरक्षा एजेंसियों की आंख में धूल झोंकने और पाकिस्तान में लश्कर-ए-तोएबा आकाओं के सम्पर्क में बने रहने के लिए कम से कम चार ईमेल पतों और 10 अंतरराष्ट्रीय सिम कार्डों का इस्तेमाल किया और ये सभी फर्जी नामों पर थे।
पुलिस के अनुसार जुंदाल सउदी अरब नहीं जाना चाहता था लेकिन मुम्बई आतंकवादी हमले की सुनवायी के दौरान मोहम्मद अजमल आमिर कसाब के खुलासे में उसका नाम आने के बाद लश्कर-ए-तोएबा के आकाओं ने इस बात पर जोर दिया कि वह अपना काम सउदी अरब से संचालित करे। (एजेंसी)



First Published: Thursday, July 26, 2012 - 22:54


comments powered by Disqus