जगनमोहन की गिरफ्तारी संभव

जगनमोहन पर अब गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है।

Updated: Apr 1, 2012, 04:41 AM IST

ज़ी न्यूज ब्यूरो

 

हैदराबाद : जगनमोहन पर अब गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। आरोपपत्र दाखिल होने के बाद यह माना जा रहा है कि सीबीआई उन्हें जल्दी ही गिरफ्तार कर सकती है। लेकिन गिरफ्तारी से पहले हो सकता है कि प्रवर्तन निदेशालय उनसे पूछताछ करें।

 

केंद्रीय जांच ब्यूरो ने आय के ज्ञात स्रोत से अधिक संपत्ति के कथित मामले में शनिवार को कड़प्पा सांसद तथा वाईएसआर कांग्रेस के प्रमुख वाईएस जगनमोहन रेड्डी तथा 12 अन्य के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया।

 

सीबीआई ने यहां विशेष सीबीआई अदालत में जगनमोहन रेड्डी, उनके वित्तीय सलाहकार विजय साई रेड्डी और 11 अन्य के खिलाफ अपना आरोप पत्र दाखिल किया। बचाव पक्ष के वकील अशोक रेड्डी ने कहा कि जगनमोहन रेड्डी पर भ्रष्टाचार रोकथाम अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत अपराधों को लेकर आरोप लगाया गया है। भारतीय दंड संहिता के तहत कोई आरोप नहीं है।

 

अशोक रेड्डी ने दावा किया, ‘सीबीआई ने उनपर अपने पिता की मदद करने का आरोप लगाया है।’ 68 पृष्ठों के आरोप पत्र में सीबीआई ने 263 दस्तावेजों और 66 गवाहों का हवाला दिया है। जगनमोहन रेड्डी को मुख्य आरोपी बनाया गया है जबकि विजय साई रेड्डी, निलंबित आईएएस अधिकारी बीपी आचार्य तथा जगती पब्लिकेशंस को सह आरोपी बनाया गया है। इसी पब्लिकेशंस से साक्षी अखबार निकलता है।