तृणमूल ने खारिज किया त्रिवेदी का तर्क

Last Updated: Saturday, March 17, 2012 - 12:35

कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस ने रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी के इस तर्क को आज खारिज कर दिया कि चूंकि रेल बजट उन्होंने पेश किया है इसलिए संसद में उन्हें चर्चा का जवाब देना है, पार्टी ने उन्हें ध्यान दिलाया कि तहलका मामला उजागर होने के बाद ममता बनर्जी ने 2001 में यही मंत्रालय छोड़ दिया था।

 

लोकसभा में तृणमूल कांग्रेस के संसदीय दल के नेता सुदीप बंदोपाध्याय ने कहा, ‘पहले भी ऐसा हुआ है। 2001 में बजट पेश करने के बाद ममता ने राजग सरकार में रेल मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था। उनके बाद रेल मंत्री बने नीतीश कुमार ने बहस का जवाब दिया था। ममता बनर्जी प्रणाली को समझती हैं।’ उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से बात कर त्रिवेदी की जगह मुकुल रॉय को रेल मंत्री बनाने की मांग की है।

 

बंदोपाध्याय ने कहा, ‘प्रधानमंत्री इस बात पर सहमत हो गए हैं कि उपयुक्त समय पर बदलाव होगा। समझा जाता है कि वह इसे लागू करेंगे।’ उन्होंने कहा कि गठबंधन सरकार में सहयोगी दल निर्णय करते हैं कि उसकी तरफ से कौन मंत्री होंगे। किसी व्यक्ति विशेष का सवाल ही नहीं उठता। (एजेंसी)



First Published: Saturday, March 17, 2012 - 18:05


comments powered by Disqus