मणिपुर के मीडिया संस्थानों की सुरक्षा कड़ी

Last Updated: Wednesday, January 4, 2012 - 10:30

 

इंफाल : मणिपुर में उग्रवादी संगठनों की धमकियों के मद्देनजर कुछ बड़े मीडिया घरानों के परिसरों पर सुरक्षा बलों और पुलिस को तैनात किया गया है।

 

सूत्रों ने बताया कि एक आतंकी गिरोह ने दो जनवरी को दैनिक अखबार ‘‘नहारोल्गी थाउदंग’’ के भवन के मुख्य दरवाजे पर चीन में बना एक शक्तिशाली ग्रेनेड रखा। उसके साथ ही एक पत्र भी था, जिसमें लिखा था, यह अंतिम चेतावनी है। अगली बार यहां विस्फोटक होगा। इस घटना के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए आल मणिपुर वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन ने संपादकों और वरिष्ठ पत्रकारों की एक बैठक बुलाई। यूनियन के प्रवक्ता ने बताया कि बैठक में सरकार से अन्य मीडिया घरानों को भी सुरक्षा प्रदान करने की अपील की गई।

 

उन्होंने बताया कि यूनियन ने राज्य सरकार से अन्य मीडिया घरानों को भी सुरक्षा प्रदान करने का आग्रह किया है।

 

उग्रवादी संगठन कंगलीपाक कम्युनिस्ट पार्टी-मिल्रिटी काउंसिल (लालचेन चानू ग्रुप) ने दावा किया है कि अखबार के गेट पर ग्रेनेड उसने रखा था।

 

सरकार और जर्नलिस्ट यूनियन के सूत्रों ने बताया कि कई उग्रवादी संगठन पिछले कई वर्ष से मीडिया घरानों को परेशान कर रहे हैं। वह चाहते हैं कि उनकी प्रेस विज्ञप्तियों को बिना संपादन के प्रकाशित किया जाए। अखबारों को उनकी यह बात गवारा नहीं है।  (एजेंसी)

 

 



First Published: Wednesday, January 4, 2012 - 16:42


comments powered by Disqus