‘बंगाल में माकपा का जनसमर्थन कायम’

Last Updated: Thursday, April 5, 2012 - 08:04

 

कोझिकोड : त्रिपुरा के मुख्यमंत्री और माकपा पोलितब्यूरो के सदस्य माणिक सरकार ने कहा है कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में पार्टी की हार के बावजूद दल का जनसमर्थन कायम है। सरकार ने पार्टी की 20वीं कांग्रेस के सिलसिले में आयोजित एक सेमिनार में कहा कि पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस को अस्थायी जीत मिली है क्योंकि वे सिर्फ भूस्वामियों और पूंजीवादियों के हितों की रक्षा कर रहे हैं।

 

उन्होंने कहा कि सत्ता में आने के बाद माकपा समर्थकों और कार्यकर्ताओं पर तृणमूल कांग्रेस के कथित हमलों से पता लगता है कि उनका लोगों पर भरोसा नहीं है। सरकार ने कहा कि राज्य में माकपा की भले ही हार हो गयी हो लेकिन अब भी उसके 40 प्रतिशत मत हैं। उन्होंने कहा कि ममता वाम के इस जन समर्थन से चिंतित हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि तृणमूल के कार्यकर्ता अन्य गलत ताकतों के साथ मिलकर राज्य में सभी लोकतांत्रिक संस्थानों के कामकाज को सुव्यवस्थित तरीके से प्रभावित करना चाहते हैं। ऐसी ताकतें सरकारी की मिलीभगत से आतंक फैला रही हैं।

 

माकपा पोलित ब्यूरो के सदस्य और पश्चिम बंगाल के राज्य सचिव विमान बसु ने आरोप लगाया कि ममता सरकार राज्य में तीन दशक के वाम शासन की उपलब्धियों को नुकसान पहुंचाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने इस क्रम में भूमि सुधारों का भी जिक्र किया। 

(एजेंसी)



First Published: Thursday, April 5, 2012 - 13:34


comments powered by Disqus