दिवाली धमाका, सेंसेक्स रिकॉर्ड उंचाई 21,033.97 पर बंद

Last Updated: Wednesday, October 30, 2013 - 18:13

मुंबई : शेयर बाजार में लगता है दिवाली इस बार पहले ही आ गयी है। बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स करीब 105 अंक की तेजी के साथ आज अबतक के सबसे उच्च स्तर पर बंद हुआ। अमेरिकी फेडरल रिजर्व की आज की बैठक में वहां मौद्रिक प्रोत्साहन की नीति जारी रखने की उम्मीद के बीच विदेशी संस्थागत निवेशकों की लिवाली के समर्थन से बाजार में तेजी आयी।
तीस शेयरों वाला सेंसेक्स 104.96 अंक या 0.50 प्रतिशत की तेजी के साथ 21,033.97 अंक बंद हुआ। इससे पूर्व 5 नवंबर 2010 को सेंसेक्स 21,004.96 अंक पर बंद हुआ। बाजार में कल 359 अंक की तेजी आयी थी। कारोबार के दौरान सेंसेक्स एक समय 21,206.77 अंक तक चला गया था। वायदा और विकल्प खंड में अनुबंधों का निपटान कल समाप्त होने से पहले बड़े पैमाने पर शॉट कवरिंग के साथ विदेशी पूंजी प्रवाह तथा वैश्विक स्तर पर बेहतर संकेत से बाजार में तेजी आयी। स्वास्थ्य, एफएमसीजी, प्रौद्योगिकी तथा बिजली कंपनियों के शेयरों में तेजी की बदौलत सभी 13 खंडवार सूचकांकों में तेजी आयी।
आईटीसी तथा आईसीआईसीआई में तेजी से सेंसेक्स में तेजी आयी। सर्वाधिक तेजी भारती एयरटेल के शेयर में दर्ज की गयी। कंपनी का वित्तीय परिणाम उम्मीद से बेहतर रहने से उसका शेयर 5.23 की तेजी के साथ बंद हुआ। नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 30.80 अंक या 0.50 प्रतिशत बढ़कर 6,251.70 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 6,269.20 अंक तक चला गया था। एमसीएक्स-एसएक्स का एसएक्स40 सूचकांक 69.68 अंक चढ़कर 12,514.81 अंक पर बंद हुआ।
इंडिया इनफोलाइन के शोध प्रमुख अमर अंबानी ने कहा, त्योहारों का मौसम बेहतर जान पड़ रहा है। रिजर्व बैंक के सीमांत स्थायी सुविधा (एमएसएफ) दर में कमी से बाजार में आज लगातार दूसरे दिन तेजी जारी रही। शेयर बाजारों में उपलब्ध अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों की लिवाली जारी है और उन्होंने कल शेयरों में 1,103.04 करोड़ रपये निवेश किये। उधर, कंपनियों की बेहतर आय तथा अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा मौद्रिक प्रोत्साहन की नीति जारी रखने की उम्मीद के बीच एशिया के अन्य बाजारों में तेजी का रूख रहा। चीन, जापान, हांगकांग, ताइवान, सिंगापुर तथा दक्षिण कोरिया के प्रमुख सूचकांकों में तेजी आयी।
यूरोपीय बाजारों में फ्रांस, जर्मनी तथा ब्रिटेन में शुरूआती कारोबार के दौरान तेजी का रूख रहा। सेंसेक्स में शामिल 30 शेयरों में 17 लाभ में रहे। इसमें सर्वाधिक भारती एयरटेल (5.23 प्रतिशत) की तेजी आयी। इसके बाद क्रमश: डा. रेड्डीज लैब (3.87 प्रतिशत), हिंडाल्को इंडस्ट्रीज (2.77 प्रतिशत), आईसीआईसीआई बैंक (2.23 प्रतिशत) तथा भेल (2.09 प्रतिशत) का स्थान रहा।
जिन प्रमुख कंपनियों के शेयरों में गिरावट दर्ज की गयी, उसमें विप्रो (2.17 प्रतिशत), सेसा स्टरलाइट (1.29 प्रतिशत), एचडीएफसी बैंक (0.95 प्रतिशत) तथा भारतीय स्टेट बैंक (0.94 प्रतिशत) शामिल हैं। (एजेंसी)



First Published: Wednesday, October 30, 2013 - 18:13


comments powered by Disqus