सहारा मामला: सुनवाई टली, अभी जेल में ही रहेंगे सुब्रत रॉय

निवेशकों के 20 हजार करोड़ रुपये नहीं लौटाने के मामले में जेल गए सहारा प्रमुख सुब्रत राय के मंगलवार को जेल से बाहर आने की संभावना नहीं है।

Updated: Mar 11, 2014, 10:29 AM IST

ज़ी मीडिया ब्यूरो
नई दिल्ली: निवेशकों के 20 हजार करोड़ रुपये नहीं लौटाने के मामले में जेल गए सहारा प्रमुख सुब्रत राय के मंगलवार को जेल से बाहर आने की संभावना नहीं है। उनका मामला मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट की विचार सूची से हटा दिया गया है। सुप्रीम कोर्ट की सोमवार को जारी पूरक सूची में सुब्रत राय का मामला जस्टिस केएस राधा कृष्णन और जेएस खेहर की विशेष पीठ के समक्ष सूचीबद्ध है। लेकिन इसके नीचे नोट लिखा है कि मामला स्थगित होने के कारण विचार सूची से हटा दिया गया है। फिलहाल सुनवाई की अगली तारीख को लेकर कोई फैसला नहीं हो पाया है।
यानी इसका मतलब यह हुआ कि जब तक सुनवाई नहीं हो जाती सुब्रत रॉय को जेल में ही रहना होगा। इससे पहले हुई सुनवाई में कोर्ट ने सुब्रत को आदेश दिया था कि वो निवेशकों का पैसा वापस करने के लिए एक ठोस प्लान सौंपें। साथ ही कोर्ट ने अगली सुनवाई की तारीख 11 मार्च तय की थी।
गौर हो कि दो अन्य निदेशकों को 4 मार्च को तिहाड़ जेल भेजते हुए उन्हें 11 मार्च को पेश करने का आदेश दिया था। कोर्ट ने कहा था कि इस बीच वे चाहे तो किसी भी समय कोर्ट में रकम लौटाने का प्रस्ताव लेकर आ सकते हैं। अब समझा जा रहा है कि सहारा प्रमुख की ओर से कोई नया प्रस्ताव नहीं मिलने के चलते इसे विचार सूची से हटाया गया है।