21,000 को पार करने के बाद फिसला सेंसेक्‍स

Last Updated: Thursday, October 24, 2013 - 17:41

मुंबई : बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स गुरुवार को करीब 42 अंक की गिरावट के साथ 20,725.43 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान सेंसेक्स तीन साल बाद पहली बार 21,000 अंक को पार कर गया था।
बाद में निवेशकों की बिकवाली से यह नीचे बंद हुआ। अगले सप्ताह रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति की तैमासिक समीक्षा तथा वायदा अनुबंधों के मासिक निपटान नजदीक आने से पहले निवेशक अधिक सतर्कता बरत रहे हैं। तीस शेयरों वाला सूचकांक नवंबर 2010 के बाद पहली बार 21,000 के ऊपर गया है। दिन में यह 21,039.42 अंक तक चढने के बाद मुनाफावसूली के दबाव में 42.45 अंक या 0.20 प्रतिशत की गिरावट के साथ 20,725.43 अंक पर बंद हुआ।
सेंसेक्स में शामिल 19 शेयरों में गिरावट दर्ज की गई। इसमें रिलायंस इंडस्ट्रीज, इंफोसिस, टाटा कंसल्टेंसी सर्विस तथा विप्रो शामिल हैं। इसके अलावा कोल इंडिया, भेल, बजाज आटो, हीरो मोटो कार्प, डा. रेड्डीज, जिंदल स्टील, एनटीपीसी तथा टाटा स्टील के शेयरों में भी घाटा हुआ।
नेशनल स्टाक एक्सचेंज का 50 शेयरों वाला निफ्टी 14 अंक या 0.23 प्रतिशत की गिरावट के साथ 6,164.35 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान एक समय निफ्टी 6,252.45 अंक तक चला गया था। एमसीएक्स-एसएक्स का सूचकांक एसएक्स 40 भी 7.5 अंक की गिरावट के साथ 12,331.32 अंक पर बंद हुआ।
कारोबारियों के अनुसार अगले सप्ताह रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा तथा वायदा अनुबंधों के मासिक निपटान नजदीक आने से पहले निवेशक सतर्क रूख अपना रहे हैं। साथ ही वे जेट एयरवेज एवं अंबुजा सीमेंट समेत विभिन्न कंपनियों के वित्तीय नतीचे से निराश हैं। खंडवार आईटी क्षेत्र का सूचकांक सर्वाधिक 1.77 प्रतिशत नीचे आया। (एजेंसी)



First Published: Thursday, October 24, 2013 - 17:40


comments powered by Disqus