अलकायदा की भारत में नई शाखा: अलर्ट जारी; पीएमओ को दी सूचना, वीडियो की होगी जांच

Last Updated: Thursday, September 4, 2014 - 18:17
अलकायदा की भारत में नई शाखा: अलर्ट जारी; पीएमओ को दी सूचना, वीडियो की होगी जांच

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो

नई दिल्ली : केंद्र ने अलकायदा के उस वीडियो के सामने आने के बाद गुरुवार को देशव्यापी अलर्ट जारी किया, जिसमें आतंकवादी संगठन ने भारत में अभियान चलाने की धमकी दी है।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शीर्ष सुरक्षा अधिकारियों के साथ बैठक की वहीं खुफिया ब्यूरो (आईबी) के शुरुआती आकलन में वीडियो को वास्तविक पाया गया। गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि एहतियाती कदम उठाने के लिए मंत्रालय द्वारा सभी राज्यों और सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट जारी किया गया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आईबी से अलकायदा के उस वीडियो की प्रामाणिकता की जांच करने को कहा है जिसमें इस आतंकी संगठन का अभियान भारत में चलाने की धमकी दी गई है।

सुरक्षा एजेंसियों का लगता है कि वीडियो अल-कायदा द्वारा उप.महाद्वीप में नई भर्तियां का प्रयास हो सकता है क्योंकि उसे आईएसआईएस की तुलना में अपना प्रभाव कम होता दिख रहा है। सिंह ने शीर्ष सुरक्षा अधिकारियों के साथ इस मुद्दे पर विचार विमर्श किया और बाद में उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि वीडियो के बारे में प्रधानमंत्री कार्यालय को सूचित किया गया है।

मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि देश में अल-कायदा की मौजूदगी के बारे में आकलन किया जा रहा है। अधिकारियों ने कहा कि देश और पड़ोस में आतंकवादी सगंठनों की गतिविधियों पर लगातार निगाह रखने वाली एजेंसी आईबी के इस संबंध में एक दो दिनों में रिपोर्ट भेजने की संभावना है।

अमेरिकी मीडिया और खुफिया एजेंसियों ने आज कहा कि अल-कायदा ने भारत में ‘जेहाद’ चलाने, भारतीय उपमहाद्वीप में ‘इस्लामी शासन स्थापित करने’ और शरियत लागू करने के लिए एक नई शाखा बनाई है। अल-कायदा के आधिकारिक मीडिया संगठन अस-सहाब ने यूट्यूब समेत सोशल मीडिया पर डाले एक एक वीडियो में ‘भारतीय उपमहाद्वीप में कायदात अल-जेहाद’ नामक समूह के गठन की घोषणा की। अलकायदा अफगानिस्तान और पाकिस्तान में सक्रिय है लेकिन समूह के नेता ऐमन अल जवाहिरी ने कहा है कि ‘कायदात अल-जेहाद’ संघर्ष को भारत, म्यांमार और बांग्लादेश तक ले जाएगा।

जवाहिरी ने कहा कि समूह ‘भारतीय उपमहाद्वीप में, बर्मा, बांग्लादेश, असम, गुजरात, अहमदाबाद और कश्मीर में कमजोर लोगों’ की हिफाजत करेगा और ‘कायदात अलजेहाद के आपके भाइयों ने आपको नहीं भूला है और आपको नाइंसाफी, दमन, उत्पीड़न ओर पीड़ा से बचाने के लिए वे जो कर सकते हैं, कर रहे हैं।



First Published: Thursday, September 4, 2014 - 18:17


comments powered by Disqus