पीएम पद के लिए मोदी नहीं ममता का समर्थन करेंगे अन्ना हजारे

Last Updated: Friday, February 14, 2014 - 15:06

ज़ी मीडिया ब्यूरो
पुणे: सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने मोदी पर निशाना साधा है जबकि ममता बनर्जी का गुणगान किया है। उन्होंने कहा नरेंद्र मोदी की चाय पर चर्चा कार्यक्रम पर निशाना साधते हुए कहा कि शराब की बोतल लेकर वोट देना या कोई चाय पिला दे उसको वोट देना, सही नहीं है।
लोकसभा चुनाव 2014 के लिए मार्च से प्रचार अभियान शुरु करने जा रहे अन्‍ना हजारे ने कहा कि वह आने वाले चुनाव में नरेंद्र मोदी की जगह पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी का समर्थन करेंगे।
सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने आज तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी को ‘आशा की किरण’ बताते हुए उनकी प्रशंसा की और कहा कि वह दिल्ली में मुख्यमंत्री से भेंट करेंगे और आगामी लोकसभा चुनाव के दौरान उनकी पार्टी के सभी उम्मीदवारों के लिए प्रचार करेंगे ।
अन्ना ने कहा, ‘हमें उसमें आशा की किरण दिखायी देती है । यदि लोग ऐसे नेताओं का समर्थन करने लगें तो देश को बदलने में ज्यादा समय नहीं लगेगा ।’ उन्होंने कहा कि ममता चप्पल और एक साधारण सी साड़ी पहनती हैं और बतौर मुख्यमंत्री वेतन भी नहीं लेतीं ।
अपने गांव राणेगण सिद्धि में तृणमूल कांग्रेस के महासचिव मुकुल रॉय से मिलने के बाद अन्ना ने संवाददाताओं से कहा, ‘मुकुल रॉय ममता के संदेश के साथ आए थे । मैं दिल्ली जाकर ममता से मिलूंगा । वहां हम चर्चा करेंगे कि क्या रास्ता अपनाना है ।’ इससे पहले मुकुल रॉय ने कहा था कि अन्ना हजारे आगामी लोकसभा चुनाव के दौरान पूरे देश में तृणमूल कांग्रेस के सभी उम्मीदवारों के लिए प्रचार करेंगे ।
ममता के प्रतिनिधि के रूप में अन्ना से मिलने पहुंचे पूर्व रेल मंत्री रॉय ने कहा कि किसी भी राजनीतिक दल के साथ नहीं जुड़ने की बात करने वाले अन्ना हजारे की ओर से समर्थन पाकर उनकी पार्टी ‘गौरवान्वित’ है । पूर्व मंत्री के अनुसार, हजारे ने कहा कि ममता एक ईमानदार नेता हैं जो भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए प्रतिबद्ध हैं ।
(एजेंसी इनपुट के साथ)



First Published: Friday, February 14, 2014 - 09:22


comments powered by Disqus