चीन ने LAC पर पेंगोंग तक बनाई सड़क, भारतीय सेना ने तेज किया गश्‍त

Last Updated: Thursday, September 4, 2014 - 16:34
चीन ने LAC पर पेंगोंग तक बनाई सड़क, भारतीय सेना ने तेज किया गश्‍त

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो

जम्‍मू : चीनी सेना की तरफ से वास्‍तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर निरंतर घुसपैठ की घटनाओं के मद्देनजर भारतीय सेना ने अब गश्‍त (पेट्रोलिंग) को तेज कर दिया है। सीमा पर चीन की एक और नापाक चाल सामने आई है। चीन ने पेंगोंग तक नए लिंक रोड का निर्माण किया है। इस लिंक रोड (सड़क) पर नजर पड़ने के बाद भारतीय सैनिकों ने सीमा पर गश्‍त को बढ़ा दिया है।

गुरुवार को आई एक रिपोर्ट के अनुसार, चीन की ओर से बनाए गए इस लिंक रोड का खुलासा तब हुआ, जब भारतीय सेना के जवान बीते 18 अगस्‍त को केएस हिल (पेंगोंग) के क्षेत्र में गश्‍त पर थे। जिसके बाद सेना ने इस क्षेत्र से लगते वास्‍तविक नियंत्रण रेखा पर पेट्रोलिंग अभियान को और सघन करने का निर्णय लिया।

गौर हो कि चीन की पीपुल्‍स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने बीते साल और बीते कुछ महीनों के दौरान भारतीय सीमा में घुसपैठ की कई बार कोशिश की। इन घटनाओं के बाद भारत और चीन के बीच तनाव काफी बढ़ गया।

जुलाई महीने में भी चीनी सेना ने दक्षिण लद्दाख के डेमचोक में घुसपैठ की, जिसके बाद चीनी सेना और आईटीबीपी के जवानों के बीच काफी देर तक बहस हुई। बाद में चीनी सेना वहां से हटने के लिए मजबूर हुए।

कुछ समय पहले, ऐसी खबरें आई थी कि चीन के चरवाहों ने डेमचोक क्षेत्र में वास्‍तविक नियंत्रण रेखा के निकट तंबू खड़े कर दिए थे। इस घटना को लेकर भी दोनों देशों की सेना के बीच तनाव बढ़ गया था। बाद में दोनों पक्षों के बीच बातचीत हुई और चरवाहों को वहां से हटना पड़ा।

चीन की विस्‍तारवादी प्रवृत्ति से उपजे खतरों के मद्देनजर केंद्र सरकार ने पड़ोसी देश से लगते सीमा क्षेत्र में वृहद स्‍तर पर सड़क निर्माण की तैयारी में जुट गई है। रिपोर्ट के अनुसार, सड़कों का निर्माण चीन के साथ लगते सीमा क्षेत्र और माआवोद प्रभावित क्षेत्रों में किया जाएगा। ताकि आने वाले सुरक्षा खतरों से सख्‍ती से निपटा जा सके। केंद्र सरकार ने अब पर्यावरण संबंधी नियमों में छूट देने का निर्णय किया है ताकि इन सड़कों को बनाने में किसी किसी तरह की देरी न हो।
 
गौर हो कि मई में नरेंद्र मोदी सरकार बनने के बाद यह घोषणा की गई थी कि पाकिस्‍तान और चीन के साथ लगते सीमा क्षेत्रों में सड़क निर्माण और प्रमुख इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर प्रोजेक्‍टों में तेजी लाई जाएगी।

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो

First Published: Thursday, September 4, 2014 - 16:34
comments powered by Disqus