`खूनी पंजा` वाले बयान पर कांग्रेस ने मोदी को घेरा, चुनाव आयोग से की शिकायत

Last Updated: Sunday, November 10, 2013 - 12:40

ज़ी मीडिया ब्यूरो
नई दिल्ली : भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के विवादित ‘खूनी पंजा’ वाले बयान पर कांग्रेस ने चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया है।
मुख्य चुनाव आयुक्त वीएस संपत को भेजे पत्र में कांग्रेस ने ‘असंयमित, दुर्भावनापूर्ण और अपमानजनक’ टिप्पणी करने के लिए मोदी को आड़े हाथ लिया। इसमें कहा गया कि कांग्रेस के हाथ चुनाव चिन्ह को ‘खूनी पंजा’ एवं ‘जालिम हाथ’ बताकर मोदी ने आयोग के लिए भी अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया है क्योंकि इसमें आयोग द्वारा आवंटित चुनाव चिन्ह का जिक्र है।
पार्टी ने कहा, ‘खूनी पंजा शब्द का इस्तेमाल अत्यधिक महत्वपूर्ण और निदंनीय है तथा इसका प्रभाव लोगों को बड़े पैमाने पर कांग्रेस के खिलाफ आतंकित करने के लिए है।’ कांग्रेस ने मोदी के गुरूवार को डोंगरगढ़ रैली में दिये गये भाषण की डीवीडी और एक अखबार के खबर की कतरन भी चुनाव आयोग को भेजी है।
पार्टी के बयान में कहा गया, ‘उनके (मोदी के) द्वारा प्रयुक्त भाषा एवं लहजा परोक्ष रूप से यह दिखाता है कि उन्होंने जानबूझकर अनुचित शब्दों एवं टिप्पणियों का उपयोग किया। आचार संहिता अन्य राजनीतिक दलों की जिस आलोचना को अनुमति प्रदान करती है वह उनकी नीतियों एवं कार्यक्रमों, उनके पिछले कामों के रिकार्ड तक सीमित है लेकिन उनका बयान इस धारा के तहत आने वाली आलोचना नहीं है। वह अनुचित भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं जो दुर्भावनापूर्ण और अपमानजनक है।’
कांग्रेस की इस शिकायत से कुछ दिन पहले ही भाजपा द्वारा कांग्रेस उपाध्यक्ष के बयान की चुनाव आयोग में शिकायत की गयी थी। कांग्रेस के एक पदाधिकारी ने अपनी पहचान छिपाते हुए बताया, ‘आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का इससे बड़ा उदाहरण क्या हो सकता है। हाल की रैलियों में भाजपा के प्रधानमंत्री प्रत्याशी की भाषा ने सभी हदों को पार कर दिया है।’ मालूम हो कि मोदी ने डोंगरगढ़ की रैली में कथित तौर पर कहा था, ‘यदि आप चाहते हैं कि छत्तीसगढ़ के ऊपर किसी खूनी पंजे का साया न पड़े तो आप सभी कमल पर बटन दबाना और छत्तीसगढ़ को खूनी पंजे से बचाना।’
बताया जाता है कि कांग्रेस ने मोदी द्वारा बहराइच रैली के दौरान की गई टिप्पणी पर भी गहरी आपत्ति जतायी है। इसमें मोदी ने कथित तौर पर कहा था, ‘मेरा मानना है कि अगले चुनाव में समाजवादी पार्टी, बसपा एवं कांग्रेस की तिकड़ी चुनाव मैदान में नहीं होगी। मुझे लगता है कि अगले चुनाव में सीबीआई और इंडियन मुजाहिद्दीन होंगे। वे ही चुनाव का ध्यान रखेंगे ताकि कांग्रेस के किले को बचाया जा सके।’



First Published: Sunday, November 10, 2013 - 08:56


comments powered by Disqus
Live Streaming of Lalbaugcha Raja