1971 के युद्ध के बाद सीमापार से सबसे ज्यादा गोलीबारी, भारत ने पाक से कड़ा विरोध जताया

Last Updated: Tuesday, August 26, 2014 - 21:15
1971 के युद्ध के बाद सीमापार से सबसे ज्यादा गोलीबारी, भारत ने पाक से कड़ा विरोध जताया

नई दिल्ली : वर्ष 1971 के भारत-पाकिस्तान के बीच लड़ाई के बाद से सीमा पार से अब तक की सबसे भारी गोलाबारी पर भारत ने आज पाकिस्तान से कड़ा विरोध जताया । हालांकि स्थिति को शांत करने के लिए दोनों देश फ्लैग मीटिंग करने पर राजी हो गए हैं ।

सेना के सूत्रों ने दिल्ली में बताया कि दोनों देशों के डीजीएमओ (सैन्य अभियान महानिदेशक) के बीच टेलीफोन पर हुई वार्ता के दौरान विरोध जताया गया । उन्होंने कहा कि दोपहर 12 बजे करीब 10 मिनट तक वार्ता चली जिस दौरान ‘सभी सामयिक मुद्दों’ को उठाया गया ।

सूत्रों ने कहा कि समझा जाता है कि वार्ता के दौरान भारतीय पक्ष ने संघषर्विराम के बढ़ते मुद्दे को उठाया और इस मुद्दे पर विरोध दर्ज कराया । पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा के पास 95 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया और इसने अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास 25 बार संघषर्विराम समझौते का उल्लंघन किया ।

सूत्रों ने कहा, ‘दोनों पक्ष स्थिति को शांत करने के लिए सेना और बीएसएफ द्वारा फील्ड स्तर पर फ्लैग मीटिंग करने को सहमत हुए हैं ।’ भारत की तरफ से डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल पीआर कुमार और पाकिस्तान की तरफ से मेजर जनरल आमिर रियाज ने हॉटलाइन पर वार्ता के दौरान सीमा पर स्थिति के बारे में चर्चा की जो हर मंगलवार को होती है । डीजीएमओ हर हफ्ते वार्ता करते हैं जिस दौरान वे एलओसी और अन्य इलाकों से संबंधित मुद्दों पर चर्चा करते हैं ।

भाषा

First Published: Tuesday, August 26, 2014 - 20:36


comments powered by Disqus