केरन क्षेत्र में घुसपैठ के दुस्साहसिक प्रयास को विफल किया गया: सेना

Last Updated: Tuesday, October 8, 2013 - 16:28

श्रीनगर : संदिग्ध पाकिस्तानी विशेष बलों द्वारा समर्थित आतंकियों के भारी घुसपैठ के प्रयास को भारतीय सेना ने विफल कर दिया है। वर्ष 1999 में करगिल के बाद से अब तक घुसपैठ के इस सबसे बड़े प्रयास को विफल करके भारतीय सेना ने मंगलवार को कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पास स्थित केरन क्षेत्र में 15 दिन तक चले अपने अभियान को समाप्त कर दिया।
सेना की उत्तरी कमांड के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल संजीव छाचरा ने संवाददाताओं को बताया, ‘मैंने केरन क्षेत्र में शुरू किए गए खोज अभियान को बंद करने के निर्देश दे दिए हैं लेकिन हमारी घुसपैठ-रोधी तैनाती को मजबूत किया जा रहा है। हम अब ऐसे अभियान शुरू करने जा रहे हैं, जो खुफिया जानकारी और निगरानी पर आधारित हैं ताकि हम चुनौतियों का सामना और उनका खात्मा कर सकें।’
पिछले माह पाकिस्तान विशेष बलों द्वारा समर्थित आतंकियों के घुसपैठ के प्रयास को विफल करने के बाद सेना द्वारा कहा जा रहा है कि वह पिछले 15 दिनों से केरन क्षेत्र में एक संगठित खोज अभियान में जुटी थी।
शनिवार को घाटी के चार दिवसीय दौरे पर पहुंचे लेफ्टिनेंट जनरल छाचरा ने कहा कि केरन क्षेत्र में कई जगहों से घुसपैठ के प्रयास किए गए।
इससे पहले आज दिन में, सेना प्रमुख जनरल बिक्रम सिंह ने कहा था कि केरन क्षेत्र में आतंकियों द्वारा घुसपैठ के प्रयास को विफल कर दिया गया है। हिंडन एयरबेस पर वायुसेना दिवस परेड से इतर जनरल सिंह ने संवाददाताओं से कहा था, ‘यह घुसपैठ का दुस्साहसिक प्रयास था, जिसे विफल कर दिया गया है।’
लेफ्टिनेंट छाचरा ने कहा, ‘हमें उनके अभियान की विशेष खुफिया जानकारी थी। हम जानते थे कि वे कहां हैं और हम उसके लिए तैयार थे। घुसपैठ के इन प्रयासों में से कुछ का तो सफाया कर दिया गया और कुछ को विफल कर दिया गया।
उन्होंने कहा कि 8 आतंकियों को मार गिराया गया और 18 एके राइफलों समेत 59 हथियार और युद्ध जैसी सामग्री बरामद की गई है। (एजेंसी)



First Published: Tuesday, October 8, 2013 - 12:54


comments powered by Disqus