आरएसएस का ‘उग्र चेहरा’ हैं नरेंद्र मोदी: बृंदा

Last Updated: Tuesday, October 8, 2013 - 20:02

बैंगलुरु : माकपा पोलित ब्यूरो सदस्य बृंदा करात ने भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी को सांप्रदायिक सियासत का रसद पहुंचाने वाला करार देते हुए कहा कि वह आरएसएस का ‘उग्र चेहरा’ हैं।
बृंदा ने कहा कि केन्द्रीय वित्तमंत्री पी. चिदंबरम तक का एक दागदार ट्रैक रेकार्ड है। मोदी, मैं नहीं जानती कि उनका क्या दागदार है। वह सांप्रदायिक सियासत को रसद पहुंचाने वाले हैं और उग्र सांप्रदायिक आरएसएस प्रचारक का चेहरा पेश करते हैं।’ माकपा नेता ने यह बात तब कही जब उनसे मोदी के ‘दागदार’ ट्रैक रेकार्ड की चिदंबरम की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया करने के लिए कहा गया।
बृंदा ने भाजपा की जयपुर रैली के दौरान मुसलमानों के बीच कथित रूप से गोल जालीदार टोपियां और बुर्के बांटे जाने पर पार्टी की कड़ी आलोचना की। उन्होंने कहा, ‘तिकड़म से मोदी को हकीकत बदलने में मदद नहीं मिलेगी।’ माकपा नेता ने कहा, ‘मोदी इशरत जहां फर्जी मुठभेड़ और जकिया जाफरी मामले में अदालत का सामना कर रहे हैं और उनपर सवालिया निशान लगा है।’ उनसे जब तीसरे मोर्चे के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार को ले कर लोग कांग्रेस और भाजपा दोनों से आजिज आ गए हैं, लेकिन कोई विकल्प नीति आधारित होना चाहिए। (एजेंसी)



First Published: Tuesday, October 8, 2013 - 20:02


comments powered by Disqus