भाजपा में टिकट बंटवारे पर घमासान, गाजियाबाद में वीके सिंह, चंडीगढ़ में किरण खेर का विरोध

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में लोकसभा टिकट के बंटवारे को लेकर मारामारी बढ़ती जा रही है। भाजपा कार्यकर्ता स्थानीय नेताओं को टिकट न दिए जाने पर पार्टी के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं।

ज़ी मीडिया ब्यूरो
नई दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में लोकसभा टिकट के बंटवारे को लेकर मारामारी बढ़ती जा रही है। भाजपा कार्यकर्ता स्थानीय नेताओं को टिकट न दिए जाने पर पार्टी के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं। भाजपा ने गाजियाबाद से पूर्व सेनाध्यक्ष जनरल वीके सिंह और चंडीगढ़ से अभिनेत्री किरण खेर को टिकट दिया है जिसका कि स्थानीय नेता और कार्यकर्ता विरोध कर रहे हैं।
भाजपा ने इस बार लोकसभा की कई सीटों पर बाहर के लोगों को टिकट दिया है जिसे स्थानीय नेता और कार्यकर्ता पचा नहीं पा रहे हैं। चंडीगढ़ में पार्टी कार्यकर्ताओं के एक समूह ने प्रदर्शन किया और खेर का पुतला जलाया। उन्होंने कहा कि पार्टी नेतृत्व चंडीगढ़ से अनुपम खेर की पत्नी किरण (58) को मैदान में उतारने के अपने निर्णय की समीक्षा करे। उन्होंने कहा कि पार्टी को स्थानीय नेताओं संजय टंडन, हरमोहन धवन और सत्यपाल जैन में से किसी को उम्मीदवार बनाना चाहिए जो सीट के लिए शीर्ष उम्मीदवार थे। किरण का मुकाबला कांग्रेस से चार बार से सांसद पवन कुमार बंसल से है। पूर्व मिस इंडिया गुल पनाग आम आदमी पार्टी से और जन्नत जहां बीएसपी से मैदान में हैं।
उधर, भारतीय जनता पार्टी में टिकट बंटवारे को लेकर मारामारी बढ़ती ही जा रही है। पार्टी के नेता और पूर्व सेना अध्यक्ष वीके सिंह को भी ऐसी ही घटना से दो-चार होना पड़ा। वीके सिंह के गाजियाबाद पहुंचने पर बीजेपी के कुछ कार्यकर्ताओं ने जमकर विरोध किया।
बताया जा रहा है कि वी के सिंह गाजियाबाद से लोकसभा का चुनाव लड़ सकते हैं। वीके सिंह हाल ही में बीजेपी में शामिल हुए हैं और स्थानीय कार्यकर्ता उन्हें गाजियाबाद से टिकट देने का विरोध कर रहे हैं। विरोध के जवाब में वीके सिंह समर्थकों ने भी नारे लगाए।

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close