करोड़ों कमाने वाले सचिन को क्यों दिया भारत रत्न: शिवानंद तिवारी

Last Updated: Monday, November 18, 2013 - 13:43

ज़ी मीडिया ब्यूरो
नई दिल्ली: क्रिकेट से संन्यास ले चुके भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को भारत रत्न अवार्ड दिए जाने पर जेडीयू ने सवाल उठाए हैं। जेडीयू के सांसद शिवानंद तिवारी ने सचिन को भारत रत्न सम्मान से नवाजे जाने पर सवाल उठाते हुए कहा है कि करोड़ों रुपये कमाने वाले खिलाड़ी को भारत रत्न देने का कोई औचित्य नहीं है।
शिवानंद तिवारी ने भारत रत्न सम्मान की गरिमा पर ही सवाल खड़े कर दिए। उन्होंने कहा कि भारत रत्न मानो एक मजाक बन गया है। इसका अब कोई मतलब रह नहीं गया है। तिवारी ने कहा कि इस परंपरा को पूरी तरह खत्म कर देना चाहिए।
शिवानंद तिवारी ने सचिन तेंदुलकर को पहले खिलाड़ी के तौर पर यह अवार्ड दिए जाने को लेकर पूछा कि इस सम्मान के लिए हॉकी के जादूगर ध्यानचंद के नाम पर विचार क्यों नहीं किया गया? जहां तक सचिन तेंदुलकर की बात है, उन्होंने मुफ्त में क्रिकेट नहीं खेला है। सचिन ने इस खेल से हजारों करोड़ रुपये कमाए हैं।
तिवारी ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि उन्हें (सचिन को) भारत रत्न मिलना चाहिए था। उन्होंने कहा कि क्रिकेट देश के बाकी खेलों को खा गया है।



First Published: Monday, November 18, 2013 - 12:47
comments powered by Disqus