सुनवाई टली, कुछ दिन और जेल में रहेंगे सुब्रत राय!

सहारा समूह के मुखिया सुब्रत राय द्वारा निवेशकों का 20 हजार करोड़ रूपया लौटाने के मामले की कल (मंगलवार) सुप्रीम कोर्ट में होने वाली सुनवाई टल गई है। इससे सहारा प्रमुख सुब्रत राय को अभी कुछ दिन और जेल में रहना पड़ सकता है।

रमानुज सिंह | Updated: Mar 10, 2014, 11:17 PM IST

ज़ी मीडिया ब्यूरो
नई दिल्ली : सहारा समूह के मुखिया सुब्रत राय द्वारा निवेशकों का 20 हजार करोड़ रूपया लौटाने के मामले की कल (मंगलवार) सुप्रीम कोर्ट में होने वाली सुनवाई टल गई है। इससे सहारा प्रमुख सुब्रत राय को अभी कुछ दिन और जेल में रहना पड़ सकता है।
न्यायमूर्ति के एस राधाकृष्णन और न्यायमूर्ति जे एस खेहड़ की पीठ ने सात मार्च को सहारा समूह से कहा था कि निवेशकों का 20 हजार करोड़ रूपए जमा कराने के बारे में सम्मानजनक प्रस्ताव पेश किया जाये। कोर्ट ने इसके साथ ही इस मामले को सुनवाई हेतु 11 मार्च के लिए सू़चीबद्ध किया था।
न्यायालय की वेबसाइट पर उपलब्ध मंगलवार की कार्यसूची में इसे सूची से हटाने और स्थगित करने की सूचना दी गयी है। सुनवाई स्थगित किये जाने का कोई कारण नहीं बताया गया है। सहारा समूह के वकील ने भी इस पर अचरज व्यक्त किया है। सहारा समूह इस मामले को यथाशीघ्र सूचीबद्ध कराने के लिये कल सुबह किसी उचित पीठ के समक्ष इसका उल्लेख कर सकते हैं।
इससे पहले, विशेष पीठ ने निवेशकों का धन लौटाने के बारे में पेश सहारा समूह के प्रस्ताव पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुये सुब्रत राय और समूह के दो निदेशकों रवि शंकर दुबे और अशोक राय चौधरी को 11 मार्च तक के लिये न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। न्यायालय ने 2500 करोड़ रूपए तीन दिन के भीतर जमा कराने और शेष राशि का भुगतान पांच किस्तों में जुलाई 2015 के अंत तक करने के सहारा समूह के प्रस्ताव को ठुकरा दिया था।