मोदी ने भाषण में छेड़ा राम का राग, मंच पर भगवान राम की तस्वीर पर चुनाव आयोग सख्त

Last Updated: Monday, May 5, 2014 - 15:45

ज़ी मीडिया ब्यूरो
फैजाबाद (उत्तर प्रदेश): यूपी के फैजाबाद में बीजेपी के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी को भगवान राम याद आए। उन्होंने रैली में कहा कि मुझे राम की धरती से भी कमल चाहिए। फैजाबाद रैली में मोदी के मंच को प्रस्‍तावित राम मंदिर से सजाया गया था। इस मंच पर भगवान राम की तस्वीर भी लगी हुई थी। गौर हो कि फैजाबाद से अयोध्या की दूरी महज चंद किलोमीटर की है। अब मोदी की इस रैली में भगवान राम के मंदिर के इस्तेमाल पर सियासी बहस छिड़ गई है।
इस रैली में मंच पर भगवान राम की तस्वीर लगी हुई थी जिसपर चुनाव आयोग ने सख्त रूख अपनाया है। चुनाव आयोग ने इसे आचार संहिता का उल्लंघन करार दिया है। चुनाव आयोग ने कहा कि धार्मिक प्रतीक चिन्ह का इस्तेमाल चुनावी आचार संहिता का उल्ल्घंघन है। चुनाव आयोग ने कहा है कि धर्म के नाम पर वोट मांगना गलत है। चुनाव आयोग फैजाबाद रैली की फुटेज को भी देखेगा जिसके लिए वह फुटेज मंगाएगा।
निर्वाचन आयोग ने भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी की आज फैजाबाद में हुई रैली में मोदी के भाषण तथा मंच पर लगे बैनर के सम्बन्ध में जिलाधिकारी से रिपोर्ट मांगी है। उन्होंने फैजाबाद के जिलाधिकारी से मोदी द्वारा रैली में दिये गये भाषण तथा मंच पर लगे बैनर के बारे में रिपोर्ट तलब की है।
गौर हो कि मोदी ने इस रैली के भाषण में कई बार भगवान राम का नाम लिया। उन्होंने महात्‍मा गांधी को याद करते हुए कहा, गांधी जी रामराज्‍य की बात करते थे, जिसे साकार करना हमारा धर्म है। उन्होंने कहा कि राम राज्य की यह परंपरा है कि प्राण जाए पर वचन ना जाए। उन्होंने कहा कि मुझे राम की धरती से भी कमल चाहिए। उन्होंने कहा कि भगवान राम की धरती से यकीन दिलाता हूं कि मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ूंगा।
रैली में उन्‍होंने कांग्रेस और सत्तारुढ़ सपा सरकार पर जोरदार हमला किया। मोदी ने कहा देश को मां-बेटे की सरकार ने और यूपी को बाप-बेटे की सरकार ने बर्बाद किया। मोदी ने सोनिया गांधी पर हमला बोलते हुए कहा, कांग्रेस पर्दे के पीछे मलाई खाती है, उन्‍होंने कहा, सपा-बसपा और कांग्रेस दिखावे की राजनीति करते हैं। यूपी में सबके बीच कुश्‍ती और दिल्‍ली में दोस्‍ती चलती है।
(एजेंसी इनपुट के साथ)



First Published: Monday, May 5, 2014 - 13:47


comments powered by Disqus