Election Results 2014 : अबकी बार मोदी सरकार, BJP नीत NDA की ऐतिहासिक जीत, कांग्रेस का सूपड़ा साफ

By Bimal Kumar | Last Updated: Saturday, May 17, 2014 - 12:10

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो/बिमल कुमार
नई दिल्ली : नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव में सत्ता पर कब्जा जमाते हुए एनडीए को जहां 334 सीटें दिलवाई, वहीं बीजेपी को भी पहली बार अपने बूते पर पूर्ण बहुमत मिल गया जबकि कांग्रेस ने अभी तक का सबसे निराशाजनक प्रदर्शन करते हुए महज 45 सीटों पर सफलता पाई।
मजबूत कांग्रेस विरोधी लहर पर सवार होते हुए गुजरात के 63 वर्षीय मुख्यमंत्री ने अपनी पार्टी को अप्रत्याशित सफलता दिलाकर भारत के विभिन्न कोनों में मजबूत स्थिति में ला खड़ा किया। मोदी के शानदार नेतृत्व के चलते 543 सदस्यीय लोकसभा में बीजेपी को 282 सीटों पर सफलता मिली है। साथ ही भारतीय जनता पार्टी 30 साल के लंबे अंतराल के बाद लोकसभा में अपने बूते पूर्ण बहुमत पाने वाला पहला दल बना है। 1984 में राजीव गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस को 417 सीटें मिली थीं।
सुदूर उत्तर के जम्मू-कश्मीर की लद्दाख सीट पर भाजपा ने जीत दर्ज की, वहीं सुदूर दक्षिण की कन्याकुमारी सीट भी भाजपा की झोली में आ गई है। भारतीय राजनीति और नीतियों पर दूरगामी असर डालने वाला यह चुनाव परिणाम शुक्रवार को आया जिसके साथ ही गुजरात में 13 वर्षों से मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी का देश के 14वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेना तय हो गया। इस चुनाव में कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों की बुरी तरह पराजय तो हुई ही, भ्रष्टाचार और व्यवस्था परिवर्तन के नारे के साथ उभरी आम आदमी पार्टी (आप) के प्रति भी मतदाताओं का रवैया उदासीन रहा। पार्टी केवल पंजाब में अपनी संतोषजनक उपस्थिति दर्ज करा सकी।
एग्जिट पोल्स के अनुमानों के मुताबिक ही कांग्रेस का बंटाधार हुआ है। सात राज्यों उत्तराखंड, तमिलनाडु, हिमाचल, दिल्ली, राजस्थान, गोवा, और गुजरात में खाता तक नहीं खोल पाई कांग्रेस 45 से सीटों पर सिमट गई है। कांग्रेस के इतिहास में उसका यह सबसे खराब प्रदर्शन है। इतनी कम सीटों के साथ वह लोकसभा में मुख्य विपक्षी दल तक नहीं रह पाएगी। कांग्रेस की अगुआई वाले यूपीए को महज 60 सीटें मिली हैं।
वहीं, अन्‍य दलों को कुल 56 सीटें हाथ लगी हैं। इसके अलावा एआईएडीएमके 37, तृणमूल कांग्रेस 34, वामदल 11, समाजवादी पार्टी 5, बसपा 0, आम आदमी पार्टी 4, जेडीयू 2 सीटों ही जीत हासिल करने में कामयाब रहे।
जीत के बाद मोदी ने अपने भाषण में सभी को साथ लेकर चलने की प्रतिबद्धता जताई। उन्हें 16वें प्रधानमंत्री के रूप में अगले हफ्ते शपथ दिलाये जाने की संभावना है। राजग के कई सहयोगियों को उनके मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है हालांकि इसमें भाजपा के मंत्रियों का बोलबाला रहने की प्रबल संभावना है। भाजपा की इस शानदार जीत में उसे हिन्दी भाषी क्षेत्रों उप्र, बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, हरियाणा, दिल्ली, झारखंड, हिमाचल प्रदेश और उत्तरखंड की सीटों पर मिली भारी सफलता का प्रमुख योगदान है। इन राज्यों की 225 सीटों में से उसे 190 सीटें मिली हैं। इन राज्यों में न केवल कांग्रेस बल्कि सपा, बसपा, जदयू एवं राजद जैसे क्षेत्रीय दलों का बेहद निराशाजनक प्रदर्शन रहा।
बीजेपी ने जहां मोदी के गृह राज्य गुजरात में कांग्रेस का सूपड़ा साफ करते हुए सभी लोकसभा सीटें जीत ली वहीं महाराष्ट्र, कर्नाटक और असम जैसे महत्वपूर्ण राज्यों में भी आकर्षक प्रदर्शन किया। निवर्तमान लोकसभा में भाजपा के 116 सदस्य हैं और राष्ट्रीय स्तर पर पार्टी का मत प्रतिशत 18-18 है जबकि कांग्रेस के 206 सदस्य और मतदान प्रतिशत 28.55 है। मौजूदा चुनाव में भाजपा को 31.4 मत प्रतिशत और कांग्रेस को 19.5 मत प्रतिशत मिला।
कांग्रेस ने निराशाजनक प्रदर्शन करते हुए महज 45 सीटों पर जीत दर्ज की। पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने इस पराजय की जिम्मेदारी स्वीकार की है। मोदी लहर पर सवार होते हुए भाजपा ने पहली बार अपने बूते पर पूर्ण बहुमत हासिल किया। 1984 में पार्टी को महज दो सीटें मिली थीं। अटल बिहारी वाजपेयी की लोकप्रियता के चरम पर भी भाजपा को 1998 और 1999 में केवल 182 सीटें मिली थीं।
कांग्रेस को अधिकतर राज्यों में दहाई अंक भी पार नहीं कर पाई जबकि भाजपा ने गुजरात (26), राजस्थान (25), दिल्ली (7), उत्तराखंड (5), हिमाचल प्रदेश (4) और गोवा (2) में सभी लोकसभा सीटें जीत ली। भाजपा ने उत्तर प्रदेश में 16 सीटें जीत ली और वह 55 पर आगे चल रही थी। उसकी सहयोगी अपना दल दो सीटों पर आगे चल रही थी। राज्य की अन्य सभी सीटें दो राजनीतिक परिवारों ने ही जीती हैं। अन्नाद्रमुक, तृणमूल कांग्रेस और बीजद ही ऐसे क्षेत्रीय दल रहे जिन्होंने क्रमश: तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल एवं ओड़िशा में भगवा दल की लहर को काफी हद तक रोक दिया।
-मैनपुरी से समाजवादी पार्टी के प्रमुख मुलायम सिंह यादव जीते।
-कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने रायबरेली में बीजेपी उम्‍मीदवार को तीन लाख से ज्यादा मतों के अंतर से हराया।
-पश्चिम बंगाल की जादवपुर सीट पर तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार सुभाष चंद्र बोस के पौत्र सुगत बोस को जबर्दस्त जीत मिली।
-दागी पूर्व दूरसंचार मंत्री और डीएमके नेता ए. राजा तमिलनाडु की नीलगिरि लोकसभा सीट से चुनाव हार गए।
-पश्चिम बंगाल की बैरकपुर सीट से तृणमृल कांग्रेस के प्रत्याशी दिनेश त्रिवेदी ने माकपा की सुभाषिनी अली को हराया।
-गायक और बीजेपी उम्मीदवार बाबुल सुप्रियो आसनसोल लोक सभा सीट से डोला सेन को हराया।
-मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की पत्नी और व कांग्रेस उम्मीदवार प्रतिभा सिंह मंडी सीट से बीजेपी उम्मीदवार स्वरूप शर्मा से चुनाव हार गईं।
-केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री शशि थरूर तिरुवनंतपुरम लोकसभा सीट से चुनाव जीत गए हैं।
-फिल्मकार और जेडीयू उम्मीदवार प्रकाश झा पश्चिम चंपारण क्षेत्र से एक बार फिर चुनाव हार गए हैं।
-अमृतसर सीट पर बीजेपी नेता अरुण जेटली अपना पहला लोकसभा चुनाव हार गए। अमरिंदर सिंह ने उन्हें करीब 90,000 मतों से पराजित किया।
-किशनगंज सीट से कांग्रेस प्रत्याशी असरारुल हक ने बीजेपी उम्मीदवार डा. दिलीप जयसवाल को 194612 मतों से पराजित कर दिया है।
- कुरूक्षेत्र लोकसभा सीट से मौजूदा कांग्रेस सांसद नवीन जिंदल को आम चुनावों के नतीजों में करारी हार मिली।
- कांग्रेस के कमलनाथ ने छिंदवाड़ा से जीत दर्ज करके नौंवी बार लोकसभा चुनाव में जीतने वाले सांसद बन गए हैं।
-दक्षिण दिल्ली में भाजपा के रमेश बिधुड़ी ने आम आदमी पार्टी के देविंदर सहरावत को एक लाख 07 हजार मतों के अंतर से पराजित कर दिया है।
-इनेलो के चरणजीत सिंह रोड़ी ने हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर को सिरसा सीट पर 1,15,736 मतों के अंतर से हराया।
-कांग्रेस के दीपेन्द्र सिंह हुड्डा ने रोहतक सीट पर भाजपा के ओ पी धनखड़ को 1,70, 627 मतों से हराया।
-गुजरात के पोरबंदर में भाजपा के विमहामेधाल रडाडिया ने राकांपा के कंधाल जडेजा को 2.67 लाख वोटों से हराया।
-मिजोरम की एकमात्र लोकसभा सीट से कांग्रेस के सीएल रूआला ने राबर्ट रोमाविया रोयते को पराजित किया।
-मध्य प्रदेश की इंदौर सीट पर भाजपा की सुमित्रा महाजन ने कांग्रेस प्रत्याशी सत्यनारायण पटेल को 4,66,467 मतों से हराया।
-उत्तर पश्चिम दिल्ली से बीजेपी उम्मीदवार उदित राज ने आप की राखी बिड़ला को 1.06 लाख मतों से हरा दिया।
-बीजेपी उम्मीदवार शांता कुमार ने कांगड़ा सीट पर अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस के चंद्र कुमार को 1.70 लाख से अधिक मतों से हरा दिया।
-पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने कर्नाटक की लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार ए मंजू को 100,462 मतों से पराजित किया।
- कांग्रेस अध्‍यक्ष ने स्‍वीकारी हार की जिम्‍मेवारी, कहा- हम सिद्धांतों से समझौता नहीं करेंगे।
- कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने ली हार की जिम्‍मेवारी।
-तृणमूल कांग्रेस की शताब्दी राय ने बीरभूम सीट पर माकपा के इलाही मोहम्मद को 67,120 मतों से हराया।
-फिरोजपुर लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्‍मीदवार सुनील जाखड़ चुनाव हार गए। उन्‍हें शिअद के शेर सिंह घुबाया ने 31420 मतों से पराजित किया।
-बीजेपी उम्मीदवार श्रीपद नाईक ने उत्तर गोवा सीट पर कांग्रेस के रवि नाईक को हराया।
-दक्षिण गोवा सीट पर भाजपा के नरेंद्र सवाईकर ने कांग्रेस के एलेक्सो लॉरेन्को रेगिनाल्डो को पराजित किया।
-बॉलीवुड अभिनेता और बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा पटना साहिब लोकसभा सीट से फिर चुनाव जीते।
-भाजपा के प्रमुख जुगल किशोर शर्मा ने कांग्रेस नेता मदनलाल शर्मा को जम्मू लोकसभा सीट पर 2.55 लाख मतों से पराजित किया।
-नासिक जिले में डिंडोरी (सुरक्षित) लोकसभा सीट पर भाजपा के मौजूदा सांसद हरीशचंद्र चव्हाण को निर्वाचित घोषित किया गया।
-नैनीताल लोकसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी भगत सिंह कोश्यारी ने कांग्रेस के केसी सिंह बाबा को दो लाख 80 हजार से ज्यादा मतों से हराया।
-केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने भाजपा के ओ राजगोपाल को 13 हजार मतों से हराकर तिरूअनंतपुरम सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा।

-उधमपुर लोकसभा सीट से कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद भाजपा के जितेन्द्र सिंह से 60976 मतों से हार गए हैं।
-राकांपा मंत्री छगन भुजबल को शिवसेना के हेमंत तुकाराम गोडसे ने नासिक लोकसभा सीट पर 1.85 लाख मतों से हराया।
-अमृतसर सीट से कांग्रेस के अमरिंदर सिंह ने बीजेपी नेता अरुण जेटली को हराया
-नरेंद्र मोदी ने वडोदरा सीट से रिकार्ड 570128 वोट के अंतर से जीत दर्ज की।
-बीजेपी के रमेश विधूड़ी दक्षिण दिल्‍ली सीट से जीते
-जबलपुर सीट से भाजपा के राकेश सिंह ने कांग्रेस के विवेक तन्खा को हराया
-कृष्णनगर सीट पर टीएमसी के तापस पाल ने माकपा के शांतनु झा को 1,71,180 मतों के अंतर से हराया
-लक्षद्वीप सीट से एनसीपी के पीपी. मोहम्मद फैसल ने कांग्रेस के हमदुल्ला सईद को हराया
-अहमदाबाद पूर्व से बीजेपी के परेश रावल जीते
- झांसी सीट से बीजेपी की उमा भारती जीतीं
-मनमोहन सिंह ने नरेंद्र मोदी को फोन करके बधाई दी
-गाजियाबाद से बीजेपी उम्‍मीदवार वीके सिंह जीते
-कांग्रेस नेता पीसी चाको चलक्कुडी सीट पर हारे
-सोलापुर से कांग्रेस नेता सुशील कुमार शिंदे हारे
-जयपुर ग्रामीण से कांग्रेस नेता सीपी जोशी हारे, राठौर जीते
-बेंगलुरु दक्षिण से बीजेपी के अनंत कुमार जीते, नीलेकणि हारे
-सासाराम से कांग्रेस की मीरा कुमार हारीं, बीजेपी के छेदी पासवान जीते
-चित्‍तौड़गढ़ से कांग्रेस उम्‍मीवार गिरिजा व्‍यास चुनाव हार गईं
-ये शुद्ध रूप से बीजेपी की जीत : सुषमा स्‍वराज
- अजमेर से कांग्रेस नेता सचिन पायलट चुनाव हार गए
-नरेंद्र मोदी दोपहर बाद 2.30 बजे प्रेस कांफ्रेंस को करेंगे संबोधित
- मोदी ने लिया मां हीरा बा का आर्शीवाद, मां ने लगाया तिलक
- नरेंद्र मोदी बोले- यह भारत की जीत हुई है
- बीजेपी की भारी जीत पर नरेंद्र मोदी ने किया ट्वीट-अच्‍छे दिन आने वाले हैं
- वाराणसी में नरेंद्र मोदी की जीत की खुशी में बीजेपी कार्यकर्ताओं में जश्‍न
-नरेंद्र मोदी के लिए एसपीजी की टीम गांधीनगर रवाना
-नरेंद्र मोदी वाराणसी सीट से 53000 वोटों से जीते
-चंडीगढ़ से बीजेपी उम्‍मीदवार व अभिनेत्री किरण खेर जीतीं, पवन बंसल को हराया
-गाजियाबाद से जनरल वीके सिंह जीते, कांग्रेस के राजबब्बर को हराया
- चांदनी चौक सीट से बीजेपी उम्‍मीदवार हर्षवर्धन जीते, सिब्‍बल हारे
- बीजेपी उम्‍मीदवार वरुण गांधी सुल्‍तानपुर सीट से जीते
- नरेंद्र मोदी वडोदरा लोकसभा सीट से चार लाख से अधिक वोटों से जीते
-नागपुर में बीजेपी के पूर्व अध्‍यक्ष नितिन गडकरी आगे
-उन्‍नाव में कांग्रेस की अनु टंडन चुनाव हारीं
- गुजरात की सभी 26 सीटों पर बीजेपी ने जीत दर्ज की, कांग्रेस का सभी सीटों पर सफाया हो गया।
- रुझानों में बीजेपी गठबंधन 300 के पार
- नरेंद्र मोदी की मां हीरा बा ने कहा- विकास के लिए मेरे बेटे को आर्शीवाद था
-अब तक की सबसे बड़ी हार की तरफ कांग्रेस पार्टी
-बागपत से आरएलडी के अजीत सिंह चुनाव हार गए
- बागपत से बीजेपी के सत्‍यपाल सिंह जीते
- रायबरेली सीट पर कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी ने जीत हासिल की।
सोलहवीं लोकसभा के गठन के लिए नौ चरणों में हुए लोकसभा चुनावों की मतगणना शुक्रवार सुबह आठ बजे देश भर में शुरू हुई। देश में 989 केंद्रों पर मतगणना का कार्य चला। 989 मतदान केंद्रों में से सबसे ज्यादा 168 आंध्र प्रदेश में हैं, जबकि पश्चिम बंगाल में 98, उत्तर प्रदेश में 76, ओडिशा में 64, असम में 51 और महाराष्ट्र में 48 मतदान केंद्र बनाए गए। देश भर में निर्वाचन अधिकारियों द्वारा ठीक से तैयार की गयी मतदाता सूचियों के नतीजतन अच्छा मतदान हुआ। भारत के इतिहास में सबसे लंबे चले चुनाव में नरेंद्र मोदी, सोनिया गांधी, राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल जैसे दिग्गजों समेत 8251 उम्मीदवार मैदान में थे जिनकी तकदीर का फैसला ईवीएम मशीनों से आज बाहर आ गया। राष्ट्रीय दलों कांग्रेस, भाजपा, बसपा, भाकपा, माकपा और राकांपा ने कुल 1591 उम्मीदवार खड़े किए थे। 47 प्रादेशिक पार्टियों ने 529 उम्मीदवार मैदान में उतारे थे। वहीं 1600 से अधिक पंजीकृत लेकिन गैरमान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों ने 2897 प्रत्याशियों पर भरोसा जताया था। इनके अलावा 3234 निर्दलीय उम्मीदवारों के भाग्य का भी फैसला हुआ।
गौर हो कि चुनाव परिणाम आने से पहले आए अधिकतर एग्जिट पोल में भाजपा को सबसे बड़ी पार्टी बताया गया था, जो आखिरकार सच साबित हुआ है। ‘बैलट यूनिट’ को वरिष्ठ निर्वाचन अधिकारियों तथा उम्मीदवारों के मतगणना एजेंटों की उपस्थिति में खोला गया। यह पहला लोकसभा चुनाव है जिसमें ‘नोटा’ (इनमें से कोई नहीं) का विकल्प भी मतदाताओं को प्रदान किया गया। आयोग ने पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए सभी मतगणना मेजों पर माइक्रो ऑब्जर्वर तैनात किये। 2014 के लोकसभा चुनावों में अब तक का सर्वाधिक मतदान हुआ और देश में करीब 81.4 करोड़ मतदाताओं में से 66.38 प्रतिशत ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया।



First Published: Friday, May 16, 2014 - 07:39


comments powered by Disqus