लोकसभा चुनाव 2014: छठे चरण में 12 राज्‍यों की 117 सीटों पर भी बंपर वोटिंग, पश्चिम बंगाल में 82 फीसदी मतदान

By Bimal Kumar | Last Updated: Friday, April 25, 2014 - 09:40

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो/बिमल कुमार
नई दिल्ली : लोकसभा चुनाव के सातवें चरण के तहत गुरुवार को 11 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी की 117 सीटों पर कराए गए मतदान में करीब 11 करोड़ लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। 117 सांसदों का चुनाव करने के लिए 18 करोड़ मतदाताओं में से करीब 60 प्रतिशत ने 201,735 मतदान केंद्रों पर मतदान किया। इस चरण में 2,098 प्रत्याशी भाग्य आजमा रहे हैं। इस दौरान मतदाताओं ने भारी उत्साह दिखाया और पश्चिम बंगाल में छह सीटों पर सबसे ज्‍यादा 82 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। वहीं, तमिलनाडु में एक ही चरण में हुए चुनाव में सभी 39 सीटों के लिए 73 प्रतिशत मतदान हुआ।
चुनाव आयोग के मुताबिक राजस्थान में पांच सीटों के लिए हुए मतदान में 59.2 प्रतिशत लोगों ने वोट डाले। महाराष्ट्र में 19 सीटों के लिए मतदान हुआ और 55.33 प्रतिशत लोगों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। इन दोनों राज्य में मतदान 60 प्रतिशत से कम रहा। सबसे अधिक मतदान 83 प्रतिशत पुडुचेरी की एकमात्र लोकसभा सीट पर हुआ।
जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में सबसे कम 28 प्रतिशत मतदान हुआ जहां से पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती भी चुनाव में अपनी किस्मत आजमा रही हैं। इस संसदीय क्षेत्र में पिछले पांच साल हुए चुनाव में केवल 26.9 प्रतिशत मतदान हुआ था। छठे चरण में करीब 2100 उम्मीदवारों के चुनावी भाग्य का फैसला करने के लिए करीब 18 करोड़ मतदाता सक्षम थे।
12 राज्‍यों में मतदान का प्रतिशत इस प्रकार रहा:
पश्चिम बंगाल : 82 फीसदी मतदान
तमिलनाडु : 73 प्रतिशत मतदान
मध्‍य प्रदेश‍b> : 64.04 प्रतिशत मतदान
उत्तर प्रदेश : 60 प्रतिशत मतदान
असम : 77.05 प्रतिशत मतदान
बिहार : 59.43 फीसदी मतदान
झारखंड : 63.44 प्रतिशत मतदान
छत्तीसगढ़ : 66 प्रतिशत मतदान
महाराष्ट्र : 56 फीसदी मतदान
राजस्थान : 59.64 फीसदी मतदान
जम्मू कश्मीर : 28 फीसदी मतदान
पुडुचेरी : 83 फीसदी मतदान

आज हुए मतदान में मध्य प्रदेश की विदिशा सीट से भाजपा नेता सुषमा स्वराज, जम्मू कश्मीर की अनंतनाग सीट से पीडीपी की महबूबा मुफ्ती, पश्चिम बंगाल के रायगंज से कांग्रेस की दीपा दासमुंशी, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिम्पल यादव कन्नौज सीट से तथा मुंबई उत्तर मध्य सीट से कांग्रेस की प्रिया दत्त और इसी सीट से भाजपा की पूनम महाजन की किस्मत इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में बंद हो गई। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के मैनपुरी से सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव, यहीं की फरूखाबाद सीट से केन्द्रीय मंत्री कांग्रेस उम्मीदवार सलमान खुर्शीद, बिहार के भागलपुर से भाजपा के शाहनवाज हुसैन, झारखंड की दुमका सीट से झामुमो प्रमुख शिबू सोरेन और राजस्थान की अलवर सीट से कांग्रेस के जितेन्द्र सिंह भी आज हुए मतदान में चुनावी मुकाबले में थे। महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान एवं छत्तीसगढ़ में मुख्य मुकाबला भाजपा एवं कांग्रेस के बीच है। लेकिन आज के मतदान में राजनीतिक रूप से सबसे महत्वपूर्ण राज्य तमिलनाडु रहा जहां भाजपा ने छोटे राजनीतिक दलों के साथ गठजोड़ किया है। ओपीनियन पोल में इस बात की प्रबल संभावना व्यक्त की गई है कि यह गठजोड़ छह से सात सीट जीत सकता है।
आज का चरण मौजूदा लोकसभा चुनाव का दूसरा सबसे बड़ा चरण था। इससे पहले 17 अप्रैल को चौथे चरण में 121 सीटों के लिए मतदान हुआ था। 117 सीटों के लिए हुए मतदान के बाद लोकसभा की 543 में से 349 या करीब दो तिहाई सीटों के लिए वोटरों का फैसला ईवीएम में बंद हो चुका है। शेष रही 216 सीटों के लिए अब अंतिम तीन चरणों में मतदान होगा। गौर हो कि मौजूदा लोकसभा चुनाव कुल नौ चरणों में हो रहा है।
इस चरण में तमिलनाडु की 39, उत्तर प्रदेश की 12, मध्य प्रदेश की 10, महाराष्ट्र की 19, झारखंड की चार, बिहार और छत्तीसगढ़ की सात-सात, पश्चिम बंगाल और असम की छह-छह, राजस्थान की पांच तथा जम्मू कश्मीर और पुडुचेरी की एक-एक लोकसभा सीटों पर मतदान कराया गया है।
मतदान के दौरान झारखंड एवं असम में हिंसा की घटनाओं में छह लोगों की जान गई। उप चुनाव आयुक्त आलोक सिन्हा ने देश भर में मतदान संपन्न होने के बाद कहा कि छिटपुट घटनाओं को छोड़ व्यापक तौर पर मतदान शांतिपूर्ण रहा। गुरुवार को हुए मतदान के साथ ही लोकसभा की 543 सीटों में 349 के लिए मतदान पूरा हो चुका है। शेष सीटों के लिए अगले तीन चरणों में मतदान कराए जाएंगे। अंतिम चरण 12 मई को होगा जिसके चार दिनों बाद 16 मई को परिणाम घोषित किए जाएंगे। चुनाव आयोग ने कहा कि पूरी प्रक्रिया सामान्य रूप से चल रही है। असम के कोकराझार क्षेत्र में सुरक्षा बलों पर भीड़ की ओर से किए गए पथराव में एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई। इसी राज्य में एक स्थान पर दो राजनीतिक दलों के समर्थकों के बीच हुई झड़प में एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि 14 अन्य घायल हो गए। राजस्थान के दौसा में ग्रामीणों और पुलिस के बीच भी टकराव हो गया और भीड़ ने सरकारी वाहन को फूंक दिया। यहां संघर्ष में संवादकर्मियों को भी चोटें आई हैं। सबसे धीमा मतदान जम्मू एवं कश्मीर के अनंतनाग में होने की सूचना मिली है जहां 13 लाख मतदाताओं में से एक चौथाई ने ही मतदान किया।
देश आर्थिक राजधानी कही जाने वाली मुंबई में भी मतदान की रफ्तार धीमी रही। यहां वरिष्ठ नेता, उद्योगपति, फिल्मो के अभिनेता-अभिनेत्री और आम आदमी एक ही कतार में खड़े थे। अपना मतदान कर चुके अभिनेता जॉन आब्राहम ने ट्वीट किया है कि मैंने अपना वोट डाल लिया। इसी तरह हर भारतीय जो मतदान के योग्य है उसकी जिम्मेवारी है। सबसे तेज रफ्तार से मतदान पश्चिम बंगाल में हो रहा है जहां झुलसा देने वाली गर्मी की परवाह न करते हुए 82 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान किया। झारखंड के दुमका जिले में संदिग्ध माओवादियों की ओर से एक वाहन को धमाके से उड़ा दिये जाने की घटना में कम से कम पांच मतदान एवं पुलिसकर्मियों की जान गयी और कुछ अन्य घायल हो गये। असम के कोकराझाड़ जिले में एक मतदान केन्द्र पर कब्जे का प्रयास कर रही भीड़ पर बीएसएफ द्वारा गोलियां चलाये जाने की घटना में एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई।
तमिलनाडु में सभी 39 सीटों के लिए गुरुवार को मतदान कराए गए। यहां अभिनेता रजनीकांत और कमल हासन के साथ ही साथ मुख्यमंत्री जयललिता ने मतदान किया। उत्तर प्रदेश में 188, बिहार में 108, मध्य प्रदेश में 118 और तमिलनाडु में 55 महिलाओं सहित 845 प्रत्याशी मैदान में हैं। इस दौर के प्रमुख उम्मीदवारों में पश्चिम बंगाल में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के पुत्र अभिजीत मुखर्जी, बिहार में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)से शाहनवाज हुसैन, कांग्रेस के तारीक अनवर, राजस्थान से पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी मोहम्मद अजहरुद्दीन, झारखंड में दोनों पूर्व मुख्यमंत्री झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो)के शिबू सोरेन और झारखंड विकास मोर्चा-प्रजातांत्रिक के बाबूलाल मरांडी और तमिलनाडु से ए राजा, दयानिधि मारन, अम्बुमणि दास, वायको, मणिशंकर अय्यर तथा टीआर बालू हैं।



First Published: Thursday, April 24, 2014 - 08:36


comments powered by Disqus