इसरो 30 जून को करेगा पांच उपग्रहों का प्रक्षेपण

भारतीय अंतरिक्ष अनुंसधान संगठन ने कहा कि भारत 30 जून को वाणिज्यिक समझौतों के तहत पांच विदेशी उपग्रहों का प्रक्षेपण करेगा।

भाषा भाषा | Updated: Jun 21, 2014, 12:25 AM IST
इसरो 30 जून को करेगा पांच उपग्रहों का प्रक्षेपण

नई दिल्ली : भारतीय अंतरिक्ष अनुंसधान संगठन ने कहा कि भारत 30 जून को वाणिज्यिक समझौतों के तहत पांच विदेशी उपग्रहों का प्रक्षेपण करेगा।

देश में निर्मित राकेट पीएसएलवी-सी23 मुख्य पेलोड के तहत 714 किग्रा भार वाले फ्रांसीसी पृथ्वी निगरानी उपग्रह ‘स्पाट-7’ को ले जा रहा है। इस राकेट के जरिये जर्मनी के 14 किग्रा के एआईएसएटी, कनाडा के 15-15 किग्रा वाले दो उपग्रह एनएलएस 7.2 (सीएएन-एक्स5) तथा सिंगापुर के 7 किग्रा वजन वाले वीईएलओएक्स-1 को प्रक्षेपित किया जायेगा।

इन पांचों उपग्रहों को श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केन्द्र से प्रक्षेपित किया जायेगा। इनके लिए इसरो की विपणन शाखा एंट्रिक्स का संबद्ध विदेशी एजेंसियों के साथ समझौता हुआ था।

इसरो के प्रवक्ता बी आर गुरूप्रसाद ने बताया, ‘सभी पांचों उपग्रहों को पीएसएलवी-सी23 से समन्वित किया गया है तथा जांच का अंतिम चरण चल रहा है। प्रक्षेपण पूर्व गतिविधियों में प्रगति की समीक्षा के लिए मिशन तैयारी समूह समिति तथा प्रक्षेपण प्रमाणन बोर्ड की बैठक 27 जून को हो रही है।’ उन्होंने कहा, ‘प्रक्षेपण प्रमाणन बोर्ड की मंजूरी मिलने के बाद 28 जून को सुबह 8 बजकर 49 मिनट से अभियान के लिए 49 घंटे की उलटी गिनती शुरू हो जायेगी।’