वेलिंग्टन टेस्ट: मैकुलम के जुझारू शतक ने न्यूजीलैंड को दिलाई बढ़त

Last Updated: Sunday, February 16, 2014 - 16:10

वेलिंग्टन : ब्रेंडन मैक्लम (नाबाद 114) की कप्तानी पारी और बीजे वॉटलिंग (नाबाद 52) के साथ उनकी उम्दा शतकीय साझेदारी की बदौलत न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम ने भारत के साथ बेसिन रिजर्व मैदान पर जारी दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन रविवार को अपनी दूसरी पारी में पांच विकेट पर 252 रन बनाकर छह रनों की बढ़त हासिल कर ली है। वॉटलिंग और मैक्लम ने दूसरे दिन 222 रनों से पिछड़ रही कीवी टीम को पारी की हार के संकट से बचाया लेकिन कुल मिलाकर उस पर से हार का संकट नहीं टला है। अब मैक्लम और वॉटलिंग के अलावा बाकी के बल्लेबाजों को चौथे दिन अपनी पारी को आगे बढ़ाते हुए भारत के सामने अपेक्षाकृत चुनौतीपूर्ण लक्ष्य रखने का प्रयास करना होगा, जो आसान नहीं है।
न्यूजीलैंड ने अपनी पहली पारी में 192 रन बनाए थे जिसके बाद भारत ने अजिंक्य रहाणे (118) के करियर के पहले शतक की बदौलत अपनी पहली पारी में 438 रन बनाकर 246 रनों की अहम बढ़त हासिल की थी। कीवी टीम ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक एक विकेट पर 24 रन बनाए थे।
कीवियों पर पारी की हार का संकट था और यह संकट उस समय और गहरा गया जब इस टीम ने 94 रनों पर पांच विकेट गंवा दिए। ऐसा लगा था कि भारत तीसरे दिन ही मैच की पटकथा अपने पक्ष में करने में सफल रहेगा लेकिन अपने करियर का नौवां शतक लगाने वाले मैक्लम और वॉटलिंग ने छठे विकेट के लिए 158 रनों की नाबाद साझेदारी करते हुए भारत को निराश कर दिया।
मैक्लम 237 गेंदों की कप्तानी पारी में 14 चौके और एक छक्का लगा चुके हैं। ऑकलैंड में खेले गए पहले टेस्ट मैच की पहली पारी में मैक्लम ने 224 रन बनाए थे। मैक्लम ने अपनी इस पारी के दौरान टेस्ट मैचों में 5000 रन पूरे किए। ऐसा करने वाले वह चौथे कीवी बल्लेबाज हैं। उनसे पहले स्टीफन फ्लेमिंग, मार्टिन क्रो और जान राइट ने 5000 या उससे अधिक रन बनाए हैं।
वॉटलिंग अब तक 208 गेंदों पर चार चौके जड़ चुके हैं। कीवी टीम ने दूसरे दिन के अंतिम सत्र में पीटरस फल्टन (1) का विकेट गंवाया था। तीसरे दिन कीवी टीम ने हामिश रदरफोर्ड (35), केन विलियमसन (7), टॉम लेथम (29) और कोरी एंडरसन (2) के विकेट गंवाए। भारत की ओर से जहीर खान तीन और मोहम्मद समी तथा रवींद्र जडेजा ने एक-एक सफलता पाई है।
दूसरे दिन की समाप्ति तक विलियमसन चार और रदरफोर्ड 18 रनों पर नाबाद लौटे थे। तीसरे दिन के पहले सत्र में विलियसन को जहीर ने सस्ते में पवेलियन की राह दिखाई लेकिन रदरफोर्ड काफी सशक्त दिख रहे थे। जहीर ने हालांकि 52 के कुल योग पर उन्हें भी चलता किया। रदरफोर्ड ने 55 गेंदों पर छह चौके लगाए।
इसके बाद लैथम और मैक्लम ने चौथे विकेट के लिए 35 रन जोड़े। लैथम का विकेट 87 के कुल योग पर गिरा। एंडरसन इस पारी में कुछ खास नहीं कर सके और मैक्लम के साथ सात रनों की साझेदारी के बाद आउट हुए। उनका विकेट 94 के कुल योग पर गिरा। दो मैचों की श्रृंखला में मेजबान टीम 1-0 से आगे है। उसने ऑकलैंड में खेला गया पहला टेस्ट मैच अपने नाम किया था। (एजेंसी)



First Published: Sunday, February 16, 2014 - 09:28


comments powered by Disqus