आदित्‍य वर्मा ने श्रीनिवासन पर गावस्कर से मांगा स्पष्टीकरण

Last Updated: Thursday, May 15, 2014 - 15:58

नई दिल्ली : सर्वोच्च न्यायालय में चल रहे इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में हुए मैच फिक्सिंग एवं सट्टेबाजी से संबंधित मामले में याचिकाकर्ता आदित्य वर्मा ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और आईपीएल के अंतरिम अध्यक्ष सुनील गावस्कर से बीसीसीआई के अध्यक्ष पद से इस समय दूर चल रहे एन. श्रीनिवासन के 13 मई को रांची में राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच हुए आईपीएल-7 के मैच के दौरान वहां उपस्थित रहने की खबरों पर स्पष्टीकरण मांगा है।
आईपीएल में हुए भ्रष्टाचार की जांच हो जाने तक सर्वोच्च न्यायालय ने श्रीनिवासन को बीसीसीआई और आईपीएल अध्यक्ष पद से दूर रहने के लिए कहा है। न्यायालय के निर्देश पर ही गावस्कर इस समय दोनों खेल संगठनों का कार्यभार देख रहे हैं। एक वेबसाइट के अनुसार, गैर मान्यता प्राप्त बिहार क्रिकेट संघ के सचिव वर्मा की याचिका पर न्यायालय ने यह निर्देश दिया था।
रिपोर्ट के अनुसार, गावस्कर को भेज गए ईमेल संदेश में वर्मा ने आरोप लगाया है कि श्रीनिवासन 13 मई को रांची में ही उपस्थित थे तथा जिस होटल में सुपर किंग्स टीम रुकी हुई थी उसी होटल में वह भी रुके थे। वर्मा ने अपने ईमेल संदेश में लिखा है कि यह एक गंभीर मुद्दा है, और मैं जानना चाहता हूं कि आपको इस बैठक की जानकारी है या नहीं। अगर आपको जानकारी नहीं है, तो क्या आपने इसमें संलिप्त व्यक्ति के खिलाफ कोई कार्रवाई की है? हालांकि श्रीनिवासन के उस दिन वहां होटल में होने की अभी कोई पुष्टि नहीं हुई है। वर्मा ने गावस्कर को भेज संदेश में आगे लिखा है कि अगर ऐसा है तो यह देश की सर्वोच्च अदालत के आदेश का उल्लंघन है।
वर्मा ने पिछले वर्ष बंबई उच्च न्यायालय में एक याचिका दायर कर सुपर किंग्स के संरक्षक एवं श्रीनिवासन के दामाद गुरुनाथ मेयप्पन और राजस्थान रॉयल्स के सह मालिक राज कुंद्रा के खिलाफ आईपीएल-6 में मैच फिक्सिंग एवं सट्टेबाजी के आरोपों की जांच के लिए बीसीसीआई द्वारा गठित दो सदस्यीय जांच समिति की वैधानिकता को चुनौती दी थी। (एजेंसी)



First Published: Thursday, May 15, 2014 - 15:58


comments powered by Disqus