एशिया कप: अफरीदी की तूफानी पारी की बदौलत पाकिस्तान ने भारत को 1 विकेट से रौंदा

शाहिद अफरीदी (नाबाद 34) की तूफानी पारी की बदौलत पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने रविवार को शेर-ए-बंग्ला स्टेडियम में खेले गए एशिया कप के 12वें संस्करण के अपने तीसरे और सबसे अहम मुकाबले में भारत को एक विकेट से हरा दिया।

Updated: Mar 3, 2014, 12:29 AM IST

LIVE SCORECARD» | LIVE COMMENTARY»
मीरपुर : शाहिद अफरीदी (नाबाद 34) की तूफानी पारी की बदौलत पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने रविवार को शेर-ए-बंग्ला स्टेडियम में खेले गए एशिया कप के 12वें संस्करण के अपने तीसरे और सबसे अहम मुकाबले में भारत को एक विकेट से हरा दिया। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान के सामने 246 रनों का लक्ष्य रखा। भारत की ओर से तीन-रोहित शर्मा (56), अंबाती रायडू (58) और रवींद्र जडेजा (नाबाद 52) ने अर्धशतक लगाए। जवाब में खेलने उतरी पाकिस्तानी टीम ने मोहम्मद हफीज (74), अहमद शहजाद (42), शोएब मकसूद (38) और अफरीदी की उम्दा बल्लेबाजी के दम पर 49.4 ओवरों में नौ विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया।
पाकिस्तान की यह दूसरी जीत है जबकि भारत को लगातार दूसरी हार मिली है। भारत ने अपने पहले मैच में बांग्लादेश को हराया था जबकि उसे श्रीलंका और पाकिस्तान से हार मिली है। पाकिस्तान को अपने पहले मैच में श्रीलंका के हाथों हार मिली थी लेकिन बाद में उसने अपने दूसरे मैच में अफगानिस्तान को पराजित कर दिया। इस हार के बाद भारतीय टीम खिताब की दौड़ से लगभग बाहर हो गई है।
पाकिस्तानी टीम ने अच्छी शुरूआत की। सलामी बल्लेबाज शारजील खान (25) और शहजाद ने पहले विकेट के लिए 71 रन जोड़े। शरजील का विकेट रविचंद्रन अश्विन ने लिया। उन्होंने 30 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्का लगाया। इसके बाद हालांकि पाकिस्तान की पारी लड़खड़ा गई। अच्छा खेल रहे शहजाद 93 के कुल योग पर अमित मिश्रा के शिकार बने। शहजाद ने 44 गेंदों पर छह चौके लगाए। 96 के कुल योग पर कप्तान मिस्बाह उल हक को जडेजा और मिश्रा ने रन आउट करके पाकिस्तान को तीसरा बड़ा झटका दिया।
पाकिस्तान का खराब दौर यहीं नहीं रुका। 113 के कुल योग पर उमर अकमल (4) एक बेहद खराब शॉट खेलकर आउट हुए। उनका विकेट मिश्रा ने लिया। उमर का विकेट गिरने के बाद हालांकि पाकिस्तान ने मैच में वापसी की और यह वापसी कराई हफीज और मकसूद ने। दोनों के विकेट पर रहते हुए पाकिस्तान आसानी से जीत की ओर बढ़ता दिख रहा था।
भारत और पाकिस्तान के बीच कोई मैच खेला जा रहा हो और वह रोमांच के हद तक नहीं पहुंचे, यह भला कैसे हो सकता है। 200 रन के कुल योग पर अश्विन की गेंद पर भुवनेश्वर ने हफीज को डीप फाइन लेग पर लपक लिया। यह पाकिस्तान के लिए अब तक का सबसे बड़ा झटका था। हफीज ने 117 गेंदों पर तीन चौके और दो छक्के लगाए।
अब विकेट पर अफरीदी आए। वैसे अफरीदी कर तो बहुत कुछ सकते थे लेकिन पाकिस्तान को उन पर इन दिनों कम ही भरोसा रहा है। अफरीदी ने आते ही में संदेह की स्थिति पैदा की और 203 के कुल योग पर मकसूद को रन आउट करा दिया। मकसूद ने 53 गेंदों पर दो चौके और एक छक्का लगाया। अफरीदी को अब शायद अपनी जिम्मेदारी का अहसास हो गया और उन्होंने उमर गुल (12) के साथ सातवें विकेट के लिए तेजी से 32 रन जोड़े। इन दोनों ने भारत के हाथ से जीत खींच लिया। गुल का विकेट 235 के कुल योग पर गिरा और वह भुवनेश्वर की गेंद पर रहाणे के हाथों कैच आउट हुए।
पारी का 49वां ओवर फेंक रहे भुवनेश्वर ने अंतिम गेंद पर मोहम्मद तल्हा (0) को को भी जडेजा के हाथों कैच कराकर पाकिस्तान को आठवां झटका दिया लेकिन भारत के लिए मुश्किल यह थी कि अफरीदी अब भी विकेट पर थे और पाकिस्तान को जीत के लिए 6 गेंदों पर 10 रनों की जरूरत थी।
कोहली ने तमाम रिस्क लेते हुए गेंद अश्विन को थमाई और उन्होंने अपनी टीम को मनमाफिक सफलता दिलाते हुए नए बल्लेबाज सईद अजमल (0) को बोल्ड कर दिया। अब पाकिस्तान को 5 गेंदों पर 10 रन बनाने थे और स्ट्राइकर पर थे अंतिम बल्लेबाज जुनैद खान (नाबाद 1)। जुनैद ने एक रन लेकर स्ट्राइक अफरीदी को दे दिया।
अब पाकिस्तान को जीत के लिए 4 गेंदों पर नौ रनों की जरूरत थी। अफरीदी ने लगभग आंख बंद करके शॉट लगाया और गेंद छक्के के लिए सीमा रेखा के बाहर चली गई। मैच भारत के हाथ से निकल चुका था। अब तीन गेंदों पर तीन रनों की जरूरत थी और अफरीदी ने अगली गेंद पर छक्का लगाकर अपनी टीम को यादगार जीत दिला दी। अफरीदी ने 18 गेंदों पर तीन छक्के और दो चौके लगाए।
इससे पहले, पाकिस्तान ने टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का फैसला किया। भारत ने रोहित शर्मा (56), अंबाती रायडू (58) और अपना 100वां मैच खेल रहे रवींद्र जडेजा (नाबाद 52) के अर्धशतकों की मदद से निर्धारित 50 ओवरों में आठ विकेट पर 245 रन बनाए। भारत की शुरुआत खराब रही। श्रीलंका के खिलाफ शतक से चूकने वाले शिखर धवन (10) को 18 के कुल योग पर मोहम्मद हफीज ने पगबाधा आउट किया।
इसके बाद रोहित का साथ देने कप्तान विराट कोहली (5) विकेट पर आए लेकिन उमर गुल ने 56 के कुल योग पर उन्हें विकेट के पीछे उमर अकमल के हाथों कैच करा दिया। कप्तान ने 11 गेंदों का सामना किया। इस मैदान पर कोहली ने अपने पिछले मैच में 183 रनों की तूफानी पारी खेली थी।
इस बीत रोहित ने अपना 22वां एकदिवसीय अर्धशतक पूरा किया लेकिन 92 रनों के कुल योग पर रोहित ने अपना विकेट गंवा दिया। रोहित ने 58 गेंदों पर सात चौके और दो छक्के लगाए। रोहित की ही तरह अजिंक्य रहाणे (23) ने भी अपना विकेट गंवाने का काम किया। रहाणे का विकेट 102 के कुल योग पर गिरा। रहाणे के 50 गेंदों पर तीन चौके लगाए।
रहाणे की विदाई के बाद रायडू और दिनेश कार्तिक (23) ने स्कोर को आगे ले जाने का काम किया। कार्तिक और रायडू ने पांचवें विकेट के लिए 52 रनों की साझेदारी की। कार्तिक का विकेट 155 के कुल योग पर गिरा। कार्तिक ने 46 गेंदों पर एक चौका लगाया।
रायडू ने अपना 100वां एकदिवसीय मैच खेल रहे रवींद्र के साथ छठे विकेट के लिए 59 रन जोड़े। रायडू ने अपना दूसरा अर्धशतक पूरा किया। उनका विकेट 214 रनों के कुल योग पर गिरा। रायडू ने 62 गेंदों पर चार चौके और एक छक्का लगाया। रायडू का स्थान लेने आए रविचंद्रन अश्विन (9) ने तेजी से रन बटोरने के प्रयास में 237 के कुल योग पर अपना विकेट गंवाया। वह सईद अजमल की गेंद पर स्टम्प किए गए। अश्विन ने सात गेंदों पर दो चौके लगाए।
बीते मैच में श्रीलंका के खिलाफ दो गेंदों पर छक्के लगाने वाले मोहम्मद समी (0) को अजमल ने पारी के 49वें ओवर की पांचवीं गेंद पर खाता नहीं खोलने दिया। इसके बाद जडेजा ने अमित मिश्रा (नाबाद 1) के साथ स्कोर को 245 तक पहुंचाने का काम किया। जडेजा ने 49 गेंदों पर चार चौके और दो छक्के लगाए।