T20 वर्ल्ड कप: भारत ने पाकिस्तान को 7 विकेट से रौंदा, एशिया कप में हार का लिया बदला

Last Updated: Saturday, March 22, 2014 - 12:59

मीरपुर (ढाका) : ट्वेंटी-20 विश्व कप में भारतीय क्रिकेट टीम ने शुक्रवार को पाकिस्तान पर लगातार चौथी जीत दर्ज की। भारत ने शेर-ए-बांग्ला स्टेडियम में खेले गए टी-20 विश्व कप के पांचवें संस्करण के अपने पहले ग्रुप मुकाबले में पाकिस्तान को सात विकेट से हराकर सात साल बाद दोबारा खिताब हासिल करने के अपने अभियान का जोरदार आगाज किया। पाकिस्तान ने भारत के सामने 131 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसे उसने 18.3 ओवरों में तीन विकेट गंवाकर हासिल कर लिया। भारत के लिए विराट कोहली ने सबसे अधिक 36, सुरेश रैना ने 35 और शिखर धवन ने 30 रन बनाए। कोहली और रैना ने चौथे विकेट के लिए नाबाद 66 रनों की साझेदादारी की। यह साझेदारी 50 गेंदों पर हुई। भारत के अमित मिश्रा को मैन ऑफ द मैच चुना गया।
ट्वेंटी-20 विश्व कप में पाकिस्तान पर भारत की यह लगातार चौथी जीत है। भारत ने 2007 में दक्षिण अफ्रीका में खेले गए टूर्नामेंट के पहले संस्करण के फाइनल में पाकिस्तान को ही हराकर पहली बार यह खिताब जीता था। उसके बाद भारत हालांकि आगे के तीन संस्करण में एक बार भी सेमीफाइनल तक नहीं पहुंचा।
भारत के लिए धवन और रोहित शर्मा (24) ने 48 गेंदों पर 54 रन जोड़कर अच्छी शुरूआत की। दोनों लय में दिख रहे थे लेकिन 54 के कुल योग पर उमर गुल ने धवन को को सईद अजमल के हाथों कैच कराकर भारत को पहला झटका दिया। धवन ने 28 गेंदों पर पांच चौके लगाए।
कुल योग में अभी 10 रन ही जुटे थे कि अजमल ने रोहित को बोल्ड कर भारत को दूसरा बड़ा झटका और मैच को नया मोड़ दिया। रोहित ने 21 गेंदों पर दो चौके और एक छक्का लगाया। इस झटके से भारत अभी उबरा भी नहीं था कि बिलाबल भट्टी ने 65 के कुल योग पर युवराज सिंह (1) को बोल्ड कर दिया।
इसके बाद रैना और कोहली ने टीम को कोई और नुकसान नहीं दिया और जीत तक पहुंचा दिया। कोहली की 32 गेंदों की पारी में चार चौके और एक छक्का शामिल है जबकि रैना ने 28 गेंदों पर चार चौके और एक छक्का लगाया। पाकिस्तान की ओर से अजमल, गुल और भट्टी ने एक-एक विकेट लिया। अजमल ने चार ओवरों में सिर्फ 18 रन खर्च किए।
इससे पहले, पाकिस्तान ने 20 ओवरों में सात विकेट पर 130 रन बनाए। उमर अकमल ने सबसे अधिक 33 रन बनाए जबकि शोएब मकसूद ने अंतिम क्षणों में 11 गेंदों पर 21 रन जुटाए। भारत की ओर से अमित मिश्रा ने दो विकेट लिए।
टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी पाकिस्तानी टीम की शुरूआत अच्छी नहीं रही। उसने नौ रन के कुल योग पर सलामी बल्लेबाज कामरान अकमल (8) का विकेट गंवा दिया। कामरान को भुवनेश्वर कुमार ने रन आउट किया।
इसके बाद अहमद शाहजाद (22) और कप्तान मोहम्मद हफीज (15) ने नुकसान की भरपाई करने के लिए तेजी से रन बटोरना शुरू कर दिया। हफीज ने इस दौरान अच्छे और आक्रामक शॉट लगाए। छठे ओवर की पहली गेंद पर उन्हें युवराज सिंह के हाथों एक जीवनदान मिला।
इसका फायदा उठाकर हफीज और शहजाद ने मोहम्मद समी के उस ओवर में 12 रन बटोरे। आठवें ओवर में गेंदबाजी करने आए रवींद्र जडेजा ने हालांकि हफीज को डीप कवर में भुवनेश्वर के हाथों कैच कराकर उन्हें जीवनदान का अधिक फायदा नहीं उठाने दिया। हफीज ने 22 गेंदों पर एक चौका लगाया। उनका विकेट 44 के कुल योग पर गिरा।
अगला ओवर लेकर अमित मिश्रा आए। मिश्रा ने नौवें ओवर की दूसरी ही गेंद पर शहजाद को अपनी फिरकी में फंसा लिया। शहजाद 17 गेंदों पर दो चौके लगाने के बाद धौनी के हाथों स्टम्प कर दिए । पाकिस्तान का यह विकेट 47 के कुल योग पर गिरा।
इसके बाद शोएब मलिक (18) और उमर अकमल (33) ने चौथे विकेट के लिए 50 रनों की साझेदारी की। यह साझेदारी 42 गेंदों का नतीजा थी। इस साझेदारी ने भारत का काफी नुकसान किया लेकिन मलिक और उमर और नुकसान करते इससे पहले ही मिश्रा ने मलिक को सुरेश रैना के हाथों कैच करा दिया।
मलिक का विकेट 97 के कुल योग पर गिरा। मलिक ने 20 गेंदों पर एक चौका और एक छक्का लगाया। उमर भारत को अभी और नुकसान पहुंचाते, इससे पहले समी ने उन्हें रैना के हाथों कैच कराकर पाकिस्तान को पांचवां झटका दिया। यह विकेट 103 रनों के कुल योग पर गिरा।
विकेट पर शाहिद अफरीदी (8) पहले से मौजूद थे और अब उनका साथ देने आए मकसूद दोनों का लक्ष्य तेजी से रन बटोरना था। इस प्रयास में अफरीदी और मकसूद ने भुवनेश्वर द्वारा फेंके गए 19वें ओर की पहली और दूसरी गेंद पर एक-एक चौका लगाया लेकिन पांचवीं गेंद पर भुवनेश्वर ने अफरीदी को रैना के हाथों कैच करा दिया। यह विकेट 114 के कुल योग पर गिरा।
समी द्वारा फेंके गए अंतिम ओवर की पांच गेंदों पर मकसूद ने 14 रन बटोरे लेकिन अंतिम गेंद पर दो रन लेने के प्रयास में वह रन आउट हो गए। इस ओवर में 15 रन निकले। (एजेंसी)



First Published: Friday, March 21, 2014 - 19:07


comments powered by Disqus