हार पर बोले धोनी-3 विकेट जल्दी गिरने से पासा पलटा

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने स्वीकार किया कि उनके अलावा शतकवीर विराट कोहली और रविंदर जडेजा के जल्दी जल्दी आउट होने से भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में रविवार को यहां 24 रन से हार झेलनी पड़ी।

अंतिम अपडेट: Jan 20, 2014, 11:34 AM IST

नेपियर : भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने स्वीकार किया कि उनके अलावा शतकवीर विराट कोहली और रविंदर जडेजा के जल्दी जल्दी आउट होने से भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में रविवार को यहां 24 रन से हार झेलनी पड़ी।
धोनी ने मैच के बाद कहा, ‘हम मैच में बने हुए थे लेकिन कोहली, जडेजा और मेरा विकेट गिरने से हमें बहुत नुकसान हुआ। हम तीनों में से किसी एक का आखिर तक क्रीज पर बने रहना महत्वपूर्ण था। हम आखिर में रन बना सकते थे लेकिन ओवर भी कम रह गये थे।’
भारतीय कप्तान ने कहा कि कुछ बल्लेबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन मैच का सकारात्मक अंत महत्वपूर्ण होता है। उन्होंने कहा, ‘हमें तैयारियों के लिये अच्छा समय मिला। मेरा मानना है कि कुछ बल्लेबाजों ने आज अच्छा खेल दिखाया लेकिन यदि आपको अच्छी शुरुआत मिलती है तो आप बड़ा स्कोर खड़ा कर लेते हो। भारत में ऐसा करना थोड़ा आसान होता है लेकिन यहां ऐसा करने लिये मेहनत करनी पड़ती है क्योंकि नयी गेंद से तालमेल बिठाना मुश्किल होता है। यदि कोई आउट होता है तो उसे अच्छी गेंद पर ही विकेट गंवाना चाहिए।’
धोनी ने हालांकि अपने गेंदबाजों की तारीफ की जिन्होंने शुरू में कुछ रन लुटाने के बावजूद न्यूजीलैंड को 300 रन तक नहीं पहुंचने दिया। उन्होंने कहा, ‘कुल मिलाकर पहले क्षेत्ररक्षण का फैसला सही था। अच्छी गेंदबाजी से इसे सही ठहराया जा सकता था। हम पहले तीन या चार ओवरों में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाये लेकिन इसके बाद हमने अच्छी वापसी की। स्पिनरों के लिये अपनी गेंदों पर नियंत्रण रखना महत्वपूर्ण था। मैं स्पिनरों से खुश हूं कि क्योंकि उन्होंने सही गेंदबाजी की। यहां गेंद को टर्न कराने का कोई मतलब नहीं था।’
उन्होंने कहा, ‘मिशेल मैकलेनगन ने गेंदबाजी में हमारे लिये अहम भूमिका निभायी और दिखाया कि वह हमारी टीम के लिये कितना महत्वपूर्ण है। बल्लेबाजी के दौरान कुछ साझेदारियां देखना अच्छा रहा। रोस टेलर और केन विलियमसन की साझेदारी वास्तव में महत्वपूर्ण रही। मैं कोरे एंडरसन के प्रदर्शन से विशेष तौर पर खुश हूं। बल्लेबाजों ने अच्छा खेल दिखाया।’
मैकुलम ने कहा कि जब धोनी और कोहली बल्लेबाजी कर रहे थे तो वह चिंतित हो गये थे। उन्होंने कहा, ‘यह कप्तान के लिये दुस्वप्न जैसा था जब वे दोनों बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन मेरा संदेश साफ था कि विकेट लेने की कोशिश करो। मेरा मानना है मिशेल ने बेजोड़ प्रदर्शन किया। एडम मिल्न ने भी चोट के बावजूद अच्छा खेल दिखाया। हमारा क्षेत्ररक्षण भी अच्छा रहा।’
मैन आफ द मैच कोरे एंडरसन ने खुशी जतायी कि उन्हें विलियमसन और टेलर से अच्छा मंच मिला। उन्होंने कहा, ‘रोस और केन ने हमारे लिये अच्छी नींव रखी थी। डेथ ओवरों में रन बनाना आसान नहीं था लेकिन हमें अगले मैच में कुछ अलग करने के बारे में सोचना चाहिए। हमने गेंदबाजी में अच्छी शुरुआत की। मुझे खुशी है कि मैंने विकेट हासिल किये लेकिन कभी ऐसा भी होता जब आप रन लुटाते हो।’ (एजेंसी)