न्यूजीलैंड को हराकर हालैंड ने जीता पहला हाकी विश्व लीग खिताब

जोंकेर कोंस्टेंटिन के तीन गोल की मदद से लंदन ओलंपिक रजत पदक विजेता हालैंड ने निहायत एकतरफा फाइनल में न्यूजीलैंड को 7-2 से हराकर पहला विश्व हाकी लीग खिताब अपने नाम कर लिया।

Updated: Jan 19, 2014, 12:05 AM IST

नई दिल्ली : जोंकेर कोंस्टेंटिन के तीन गोल की मदद से लंदन ओलंपिक रजत पदक विजेता हालैंड ने निहायत एकतरफा फाइनल में न्यूजीलैंड को 7-2 से हराकर पहला विश्व हाकी लीग खिताब अपने नाम कर लिया।
इस साल पुरूष हाकी विश्व कप की मेजबानी कर रहे हालैंड ने सेमीफाइनल में आस्ट्रेलिया को हराया था जबकि न्यूजीलैंड ने इंग्लैंड पर अप्रत्याशित जीत दर्ज की थी। विश्व रैंकिंग में अपने से तीन पायदान नीचे सातवें स्थान पर काबिज न्यूजीलैंड को इस बेमेल मुकाबले में डच टीम ने हर विभाग में बौना साबित कर दिया। उसने पहले हाफ में तीन और दूसरे हाफ में चार गोल दागे।
हालैंड के लिये कोंस्टेंटिन ने तीन (17वां, 35वां, 61वां मिनट), बिली बाकेर (24वां और 59वां) ने दो गोल किये जबकि डीवी बाब (36वां) और रोजियर होफमैन (45वां) ने एक-एक गोल किया। वहीं न्यूजीलैंड के लिये दोनों गोल दूसरे हाफ में स्टीव एडवर्डस (37वां और 52वां मिनट) ने किये।
हालेंड के राबर्ट केंपरमैन को प्लेयर आफ द टूर्नामेंट चुना गया जिन्हें पुरस्कार के तौर पर हाकी इंडिया ने दो लाख रूपये दिये। वहीं इंग्लैंड के जार्ज पिनेर को सर्वश्रेष्ठ गोलकीपर और भारत के मनदीप सिंह को सर्वश्रेष्ठ युवा खिलाड़ी के पुरस्कार के तौर पर एक एक लाख रूपये दिये गए। एफआईएच ने इस मौके पर जर्मनी के तोबियास हाउके को वर्ष 2013 के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार भी प्रदान किया। फाइनल मैच के हाफटाइम ब्रेक में एएफआईएच बोर्ड के सदस्य अलबटरे बुडेइस्की ने उन्हें यह पुरस्कार प्रदान किया। (एजेंसी)