आसाराम के आश्रम में गुप्‍त तरीके से आती थी लड़कियां: पूर्व सेवादार

Last Updated: Thursday, October 10, 2013 - 11:18

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो
जोधपुर : नाबालिग लड़की से यौन शोषण के आरोपी आसाराम की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं और उनके पूर्व सेवादारों की ओर से किए जा रहे खुलासों से आसाराम के खिलाफ शिकंजा और कसता जा रहा है। पूर्व सेवादार ने खुलासा किया है कि आसाराम के आश्रम में लड़कियों की गुप्‍त तरीके से आवजाही होती थी।
पुलिस ने लड़कियों का यौन उत्पीड़न करने के आरोप से जूझ रहे आरासाम के एक पूर्व सेवादार का कल यहां एक अदालत में बयान दर्ज किया। हरियाणा निवासी अरुण कुमार ने अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मेट्रोपोलिटन अदालत में अपना बयान दर्ज कराया। वह 1995 से पहले अहमदाबाद में आसाराम के मोटेरा आश्रम में सेवादार रहा था और काफी समय पहले वहां से भाग गया था।
उसने दावा किया कि आश्रम में रात के समय झोपड़ियों में लगातार लड़कियों की गुपचुप तरीके से आवाजाही चलती रहती है। उसने यह भी कहा कि रसोइये और सहायक की अप्राकृतिक मौत हुई।
कुमार ने कहा कि अनैतिक और आपराधिक गतिविधियां देखने के बाद उसने आश्रम छोड़ दिया। उसने कहा कि जब मुझे जोधपुर में इस मामले के बारे में पता चला तो मैंने सोचा कि पुलिस की मदद करना और निर्दोष लोगों को आसाराम के मिथक लोक से बचाना मेरा कर्तव्य है। अजय ने अदालत से सुरक्षा की भी गुहार लगाई। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि कुमार के बयान से आसाराम के खिलाफ मामला मजबूत करने में मदद मिलेगी।
उसने कहा कि हम सूरत में आसाराम के खिलाफ हाल ही में दर्ज मामलों के ब्यौरे भी इकट्ठा रहे हैं। दूसरी तरफ इस मामले में सह आरोपी शिल्पी और शिवा के जमानत आवेदनों पर आज जिला एवं सत्र न्यायालय में बहस हुई। दोनों न्यायिक हिरासत में हैं। बचाव पक्ष ने अपनी दलीलें खत्म की। अभियोजन अपनी दलीलें जारी रखेगा।



First Published: Thursday, October 10, 2013 - 11:18


comments powered by Disqus