मध्‍य प्रदेश: रतनगढ़ मंदिर हादसे पर आस्था भारी

मध्य प्रदेश के दतिया जिले में रतनगढ़ स्थित देवी मंदिर में हादसे के दूसरे दिन सोमवार को हजारों की संख्या में श्रद्घालु दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं। यहां हादसे पर आस्था भारी पड़ती दिख रही है। रविवार की तुलना में सोमवार को सुरक्षा के इंतजाम कहीं बेहतर हैं।

अंतिम अपडेट: Oct 14, 2013, 01:28 PM IST

दतिया (मध्य प्रदेश) : मध्य प्रदेश के दतिया जिले में रतनगढ़ स्थित देवी मंदिर में हादसे के दूसरे दिन सोमवार को हजारों की संख्या में श्रद्घालु दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं। यहां हादसे पर आस्था भारी पड़ती दिख रही है। रविवार की तुलना में सोमवार को सुरक्षा के इंतजाम कहीं बेहतर हैं।
सोमवार सुबह से ही मंदिर में हजारों लोगों के पहुंचने का क्रम बना हुआ है। नाचते-गाते लोग टोलियों में मंदिर पहुंच रहे हैं और पूजा-अर्चना का दौर जारी है। वहीं बड़ी संख्या में लोग सिंध नदी में स्नान कर रहे हैं। रविवार को मची भगदड़ से सीख लेते हुए प्रशासन ने बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की है। पुल से वाहनों को गुजरने नहीं दिया जा रहा है। इससे श्रद्घालुओं को कई किलोमीटर पैदल चलना पड़ रहा है।
उल्लेखनीय है कि रतनगढ़ के सिंध नदी पर बने पुल पर रविवार को मची भगदड़ में अबतक 111 श्रद्धालुओं की मौत हो चुकी है। सरकार ने घटना की न्यायिक जांच के आदेश दे दिए हैं। (एजेंसी)