सांसद ने बार-बार छुआ, अभिनेत्री श्वेता मेनन ने पुलिस को दिए बयान में कहा

कांग्रेस सांसद पर छेड़छाड़ का आरोप लगाने के बाद मामले को आगे नहीं बढ़ाने का विकल्प चुन चुकी मलयालम फिल्मों की अदाकारा श्वेता मेनन ने पुलिस को दिए अपने बयान में दावा किया है कि उसे बार-बार स्पर्श किया गया था।

Updated: Nov 7, 2013, 12:32 PM IST

कोल्लम (केरल) : कांग्रेस सांसद पर छेड़छाड़ का आरोप लगाने के बाद मामले को आगे नहीं बढ़ाने का विकल्प चुन चुकी मलयालम फिल्मों की अदाकारा श्वेता मेनन ने पुलिस को दिए अपने बयान में दावा किया है कि उसे बार-बार स्पर्श किया गया था।
इस मामले की प्राथमिकी के तहत यहां की एक अदालत में दर्ज कराए गए अपने बयान में अदाकारा ने कहा था कि पिछले शुक्रवार को यहां प्रेसीडेंट ट्रॉफी नौका दौड़ के आयोजन स्थल पर पहुंचने के लिए जैसे ही वह अपनी कार से नीचे उतरी सांसद एन पीतम्बर कुरूप ने उन्हें स्पर्श करना शुरू कर दिया और उनका हाथ पकड़ लिया।
श्वेता ने महिला क्षेत्र निरीक्षक के नेतृत्व वाली पुलिस की एक टीम को यह बयान दिया। इस घटना के संवेदनशील रूप अख्तियार करने पर निरीक्षक रविवार को उनके कोच्चि स्थित अपार्टमेंट में उनसे मिलने गई थी।
सांसद के खिलाफ बयान देने के बाद श्वेता रविवार की शाम इससे पलट गई और उन्होंने कुरूप के खिलाफ शिकायत वापस लेने का फैसला करने की घोषणा की। इसके पीछे उन्होंने इस बात का जिक्र किया कि कुरूप ने उनकी भावनाएं आहत होने के चलते उनसे माफी मांग ली है। हालांकि, पुलिस ने एक स्थानीय अदालत में प्राथमिकी दाखिल कर दी क्योंकि ऐसे मामलों में कानून के मुताबिक यह जरूरी है।
अदाकारा ने अपने बयान में कहा कि उनकी अगवानी करने के लिए कुरूप के साथ वहां एक और व्यक्ति था जो एक लंबा कुर्ता पहने हुए तथा गले पर एक शॉल लटकाए हुए था। जैसे ही वह कार से उतरी, कुरूप ने उनका हाथ पकड़ लिया और उसे तब तक पकड़े रखा जब तक कि वे कार्यक्रम के मंच पर नहीं पहुंच गए। इस पर असहजता महसूस करते हुए अदाकारा ने सांसद से कहा कि यदि वह उनका हाथ छोड़ेंगे, तभी जाकर वह लोगों को संबोधित कर सकती हैं।
उन्होंने आरोप लगाया कि कुरूप ने उन्हें दो तीन बार स्पर्श किया और भद्दे तरीके से उनके कंधे को धक्का दिया। श्वेता ने बताया कि इस पर खुद को अपमानित महसूस कर उन्होंने नौका दौड़ देखने का इंतजार किए बगैर आयोजन स्थल से जाने का फैसला किया। (एजेंसी)