सीमांध्र में लौटी राहत, बिजली कर्मचारियों ने हड़ताल वापस ली

Last Updated: Thursday, October 10, 2013 - 15:39

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो
हैदराबाद : सीमांध्र के लोगों के लिए यह वाकई राहत भरी खबर है। सीमांध्र के बिजली कर्मचारियों ने तूफान की चेतावनी के मद्देनजर अपनी हड़ताल गुरुवार को वापस ले ली है। इसके बाद 13 जिलों में बिजली आपूर्ति बहाल कर दी जाएगी।
सीमांध्र (तटीय आंध्र एवं रायलसीमा क्षेत्र) के विद्युत कर्मचारियों ने गुरुवार को चक्रवात की चेतावनी के मद्देनजर अनिश्चितकाल के लिए शुरू की गई हड़ताल पांचवें दिन खत्म कर दी। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. किरण कुमार रेड्डी से बातचीत के बाद सीमांध्र विद्युत कर्मचारियों की संयुक्त कार्रवाई समिति (जेएसी) ने पत्रकारों को बताया कि वे लोगों के हितों को देखते हुए कुछ समय के लिए हड़ताल वापस ले रहे हैं।
विद्युत कर्मचारियों के एक नेता आर. साईंबाबा ने कहा कि यदि आवश्यता पड़ी तो राज्य को विभाजन से बचाने की खातिर केंद्र सरकार पर दबाव बनाने के लिए वे फिर से हड़ताल शुरू करेंगे। मुख्यमंत्री किरण कुमार रेड्डी ने विद्युत कर्मचारियों से हड़ताल समाप्त करने का आग्रह किया, क्योंकि इससे सीमांध्र के लोगों को भारी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा था।
उधर, केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने कहा कि तेलंगाना से संबंधित मंत्री समूह जल्द से जल्द रिपोर्ट सौंपेगा। उन्‍होंने यह भी कहा कि आंध्र प्रदेश के साथ न्याय किया जाएगा। मुझे नहीं लगता कि तेलंगाना फैसले से पीछे हटने की कोई संभावना है।
गौर हो कि सीमांध्र में बिजली कर्मचारियों की हड़ताल पांचवे दिन भी जारी रहने के कारण गुरुवार को भी लोग बिजली संकट से जूझ रहे थे। क्षेत्र के बिजली कर्मचारी केंद्र के आंध्र प्रदेश के विभाजन (पृथक तेलंगाना) के फैसले को वापस लेने की मांग को लेकर हड़ताल पर थे। सीमांध्र (रायलसीमा एवं तटीय आंध्र प्रदेश) के सभी 13 जिलों में बिजली उत्पादन एवं प्रसारण ठप्प है, जिससे लोगों को कई तरह की मुश्किलों से गुजरना पड़ा। खासकर चिकित्सा सेवाएं, रेल सेवाएं एवं औद्योगिक उत्पादन पूरी तरह बंद पड़ा था।



First Published: Thursday, October 10, 2013 - 14:34


comments powered by Disqus