ड्रोन हमलों से नाराज पाक US के साथ संबंधों की करेगा समीक्षा

Last Updated: Sunday, November 3, 2013 - 11:39

इस्लामाबाद : पाकिस्तान ने अमेरिका पर आतंकवादियों के साथ प्रस्तावित शांति वार्ता में बांधा पहुंचाने का प्रयास करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि संपूर्ण द्विपक्षीय संबंधों और सहयोग की समीक्षा करेगा।
पाकिस्तानी गृह मंत्री चौधरी निसार अली खान ने शनिवार को संवाददाताओं से कहा, ‘‘उत्तरी वजीरिस्तान में कल हुआ ड्रोन हमला किसी व्यक्ति के मारने को लेकर नहीं था, बल्कि यह क्षेत्र में शांति की हत्या थी।’’
उत्तरी वजीरिस्तान में कल किए गए अमेरिकी ड्रोन हमले में पाकिस्तान तालिबान का सरगना हकीमुल्ला महसूद मारा गया था। यह पूछे जाने पर कि क्या अमेरिका ने तालिबान के साथ शांति वार्ता को नुकसान पहुंचाने के लिए यह हमला किया तो खान ने कहा, ‘‘निश्चित तौर पर।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हकीमुल्ला महसूद इतना महत्वपूर्ण क्यों हो गया? अगर वह वांछित था तो पहले भी कई मौके आए थे। यह हमला उस वक्त क्यों किया गया जब तीन दिन बाद ही उलेमा का तीन सदस्यीय एक दल दौरा करने और तालिबान के साथ औपचारिक संपर्क स्थापित करने जा रहा था।’’
खान ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी कैबिनेट समिति की तत्काल बैठक बुलाई गई है जिसमें अमेरिका के साथ द्विपक्षीय संबंधों और सहयोग की समीक्षा की जाएगी। माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के ब्रिटेन दौरे से लौटने के बाद अगले दो या तीन दिनों में यह बैठक होगी। (एजेंसी)



First Published: Sunday, November 3, 2013 - 11:39
comments powered by Disqus